breaking news New

संसदीय सचिव ने किया उत्कृष्ठ खिलाडिय़ों को सम्मानित

 संसदीय सचिव ने किया उत्कृष्ठ खिलाडिय़ों को सम्मानित

कड़ी मेहनत कर प्रदेश का नाम रोशन करें खिलाड़ी-चंद्राकर
महासमुंद। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने राष्ट्रीय शालेय प्रतियोगिता में उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने खिलाडिय़ों से कड़ी मेहनत कर जिले के साथ ही प्रदेश का नाम रोशन करने की बात कही।
65 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता में कोच अंजू प्रजापति के नेतृत्व में जिले से खिलाडिय़ों ने हिस्सा लिया था। जिसमें शासकीय हायरसेकेंडरी स्कूल तुसदा के मनोज, युवराज ध्रुव, पंकज महोबिया, राहुल रात्रे, भूपेश शर्मा, रागिनी सिन्हा, चंचल महोबिया, मनीष शर्मा, पदमा पटेल, गीता दीवान, भावना दीवान, सुमन खडिय़ा, पुरन सिंह, ओमकार यादव, गुपेश पटेल, किशन दीवान ने उत्कृष्ठ प्रदर्शन किया। प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को क्रमश: 21 हजार, 15 हजार व 10 हजार रूपए प्रदान किया गया। आज सोमवार को खिलाडिय़ों ने संसदीय सचिव निवास पहुंचकर संसदीय सचिव  चंद्राकर से मुलाकात की। जहां इन खिलाडिय़ों को सम्मानित करते हुए संसदीय सचिव  चंद्राकर ने चेक वितरित किया। इस दौरान संसदीय सचिव  चंद्राकर ने कहा कि खेल और खिलाड़ी को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रयासरत है। सरकार उत्कृष्ट खिलाड़ी को भी रोजगार दे रही है। जिससे उनका मनोबल बढ़ा है। उन्होंने खिलाडिय़ों को कहा कि सम्मान के साथ आगे भी बाधाओं से लड़ते हुए अपनी पहचान बनाएं। इस अवसर पर शासकीय हायरसेकेंडरी स्कूल तुसदा के प्राचार्य एमएस मरकाम, कोच अंजू प्रजापति, कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष ढेलू निषाद, इमरान अली आदि मौजूद थे।
टेबल सॉकर उपलब्ध कराने की मांग
मुलाकात के दौरान खिलाडिय़ों व कोच ने संसदीय सचिव  चंद्राकर से टेबल सॉकर उपलब्ध कराने की ओर ध्यानाकर्षित कराया। जिस पर संसदीय सचिव  चंद्राकर ने उचित पहल करने का आश्वासन दिया है। कोच व खिलाडिय़ों ने बताया कि पिछले कुछ सालों से जिले से टेबल सॉकर के प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ी प्रतिनिधित्व करते आ रहे हैं। लेकिन खेल सामाग्री के अभाव में प्रैक्टिस करने में दिक्कतें आ रही है। जिस पर उन्हें खेल सामाग्री उपलब्ध कराई जाए। जिस पर संसदीय सचिव  चंद्राकर ने उचित पहल करने का आवश्वासन देते हुए जिला खेल अधिकारी से इस संबंध में चर्चा भी की।