breaking news New

मित्तल अस्पताल का लाइसेंस निरस्त करने की मांग को लेकर स्वाभिमान पार्टी का प्रदर्शन

मित्तल अस्पताल का लाइसेंस निरस्त करने की मांग को लेकर स्वाभिमान पार्टी का प्रदर्शन

शिवकुमार साहू के परिजनों को पैसा वापस करने की मांग, अपर कलेक्टर ने दिया आश्वासन

भिलाई, 26 नवंबर। स्वाभिमान पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने आज बड़ी संख्या में जिला कलेक्टर परिसर में पहुंचकर भिलाई नगर के नेहरू नगर स्थित मित्तल अस्पताल को बंद किए जाने और अस्पताल का लाइसेंस निरस्त करने की मांग को लेकर जबरदस्त प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने इस मामले में पूर्व सांसद स्वर्गीय ताराचंद साहू के दामाद शिव कुमार साहू से कोरोना वायरस के नाम पर फर्जी तरीके से मित्तल अस्पताल द्वारा वसूली गई रकम तत्काल वापसी की मांग की। स्वाभिमान पार्टी के नेता एवं अधिवक्ता सतीश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि इस संदर्भ में एक जांच समिति बनाई गई थी जिसको काम करते महीनों बीत गए लेकिन आज तक न किसी प्रकार की कोई जांच रिपोर्ट आई न पैसे वापसी की कोई बात हुई। वहीं दूसरी तरफ ऐसी खबर भी फैल रही है कि जिला प्रशासन की मिलीभगत से अस्पताल प्रबंधन पैसा वापस करने से इंकार कर रहा है। इस बात का उल्लेख ज्ञापन में भी किया गया है। पार्टी के नेताओं का कहना है कि जिस संक्रमण का आज तक ठीक-ठीक पता ही नहीं चला और न ही उसकी कोई दवाई बनी है। उस संक्रमण के इलाज के नाम पर साढे छह लाख से सात लाख की अवैध वसूली मित्तल अस्पताल के द्वारा करना आपदा में षड्यंत्रकारी अवसर खोजने जैसा है। सेवा के नाम पर खोले गए अस्पताल के मालिक मरीजों और उनकी लाश पर धंधा करने का केंद्र बना चुके हैं। एक तरफ स्वयं सरकार ने संविदा करके राशि निश्चित कर दी है जिसमें तेरह से चौदह हजार रु. प्रतिदिन के हिसाब से लिया जाना निश्चित कर दिया गया है। इसके बावजूद अस्पताल सरेआम लूट रहे हैं। ऐसे में कार्यवाही में लेट लतीफी शासन और प्रशासन के लोगों का निश्चित मिलीभगत दिखा रहा है। यदि जल्द से जल्द कार्यवाही नहीं की गई तो अस्पताल प्रबंधन का लाइसेंस निरस्त करने और दंडित करने के लिए अलग-अलग स्तर पर पार्टी की तरफ से कार्यवाही की जाएगी।


पार्टी ने इस संदर्भ के चेतावनी देते हुए पत्र में स्पष्ट जानकारी दी है। जानकारी देते हुए बताया गया कि इस मामले में रायपुर स्वास्थ्य विभाग के समक्ष भी प्रदर्शन किया जाएगा और ज्ञापन दिया जाएगा।आवश्यकता पड़ने पर बिलासपुर उच्च न्यायालय में याचिका लगाकर मित्तल अस्पताल सहित प्रशासन के अधिकारियों और मुख्य चिकित्सा अधिकारी इत्यादि के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए याचिका दायर की जाएगी। आज के प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों को जिला कलेक्टर कार्यालय के गेट पर ही रोक लिया गया और अपर कलेक्टर पंचभाई द्वारा आकर चर्चा की गई। कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे भी प्रदर्शनकारियों के समक्ष पहुंचे। लेकिन आवश्यक मीटिंग होना बताकर वह निकल गए। अपर कलेक्टर पंचभाई ने ज्ञापन स्वीकार करने के पश्चात तत्काल कार्यवाही करने का आश्वासन दिया और पैसे वापसी का भरोसा दिलाया।श्री पंच भाई ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि जांच समिति में एक प्रशासनिक अधिकारी को और जोड़ा जाएगा और जल्द से जल्द कार्यवाही की जाएगी। 

आज के प्रदर्शन में स्वाभिमान पार्टी के थनेंद्र साहू, संतोष विश्वकर्मा, रामचरण साहू, तरुण कुमार साहू, राजकुमार राय,भूषण साहू, ओमकार ताम्रकार, देवेंद्र साहू, दीपक चनपुरिया, अरुण साहू, खिलेंद्र यादव, रवेंद्र साहू,कमलेश देशमुख, देवेंद्र साहू, रितेश साहू, हिमाचल साहू, मनीष साहू, कैलाश लोहमार, शुभम, सुंदर लाल साहू, दिनेश, रमेश चांडक, अश्विनी शुक्ला, धीरेंद्र साहू, राजेंद्र चंद्राकर, वीरेंद्र साहू सहित बड़ी संख्या में स्वाभिमान पार्टी के कार्यकर्ता उपस्थित थे।