breaking news New

राजीव भवन में कांग्रेस ने गरिमा व सादगी के साथ मनाई पूर्व पीएम पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती

राजीव भवन में कांग्रेस ने गरिमा व सादगी के साथ मनाई पूर्व पीएम पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती

बस्तर। बस्तर जिला कांग्रेस कमेटी शहर द्वारा आज राजीव भवन में प.जवाहरलाल नेहरू जी की जयंती गरिमा व सादगी के साथ मनाई गई। सर्वप्रथम उनके छाया चित्र पर माल्यार्पण कर भावभिनी श्रद्धाजंली दी। उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अनवर खान ने उनके त्याग तपस्या और योगदानों को बताया वह पहले प्रधानमंत्री थे।

स्वतन्त्रता के पूर्व व पश्चात भारतीय राजनीति के केंद्रीय व्यक्तित्व थे इनका जन्म 14 नवम्बर 1889 में हुआ। जिन्होंने देश को कई विषम परिस्थियों में भी उसकी अर्धव्यवस्था को गिरने नही दिया, उन्हें बच्चों से काफी लगाव था। इसलिये उन्हें चाचा नेहरू का खिताब मिला और देश मे चाचा नेहरू के नाम से जाना जाने लगा।

इसी दौरान महापौर सफीरा साहू ने भी पूर्व प्रधानमंत्री प जवाहरलाल नेहरू  की जयंती पर अपने विचार रखे कहा की जन्मकाल से इन्हें राजनीति विरासत में मिली थी, और उसे काफी अच्छा सम्भाला देश की आज़ादी में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी। कुशाग्रबुद्धि के धनी नेहरू जी ने देश के सफल प्रधानमंत्री साबित हुए।

महात्मा गाँधी के सरंक्षण में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के सर्वोच्च नेता के रूप में उभरे और उन्होंने 1947 एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में स्वतन्त्रता से लेकर 1964 तक भारत का नेतृत्व कर अच्छी सेवा दी इनके कार्यशैली की जितनी सराहना की जाए वह कम है। नारी शक्ति को भी इन्होंने सम्मान दिलाया आज इन्ही के बदौलत नारी शक्तियां देश मे अपना अहम स्थान बना चुकी है। 

नहेरु जी की जीवनी पर योगेश पाणिग्राही, प्रवीण जैन ने प.जवाहर लाल नेहरू जी के कार्यशैली व जीवनी पर अपने अपने विचार रखे, कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ कांग्रेसी सतपाल शर्मा  ने किया। इस दौरान कार्यक्रम में कांग्रेस के समस्त कार्यकर्ता उपस्थित थे।