breaking news New

केन्द्र सरकार के खिलाफ राष्ट्व्यापी अभियान : 9 को जनविरोधी नीतियो के विरूध प्रदर्शन

 केन्द्र सरकार के खिलाफ राष्ट्व्यापी अभियान : 9 को जनविरोधी नीतियो के विरूध प्रदर्शन

 

10 को बैलाडिला से जगदलपुर तक निकालेंगे यात्रा

बचेली/किंरदुल- केन्द्र सरकार मजदूर, किसान और जनविरोधी नीतियो के खिलाफ देश के 10 राष्ट्रिय  ट्रेड  यूनियनो व स्वतंत्र फेडरेशनो ने अगस्त का्रंति दिवस 9 अगस्त को भारत बचाओ दिवस के रूप में मनाते हुए 15 दिनो का सघन राष्ट्व्यापी अभियान चलाकर केन्द्र सरकार की राष्ट् विरोधी नीतियेा को आम जनता के सामने लाने का निर्णय लिया है।

          इसी कड़ी में राष्ट्रिय  मजदूर कांग्रेस  (इंटक) द्वारा चरणबद्व आंदोलन करने का निर्णय लिया गया है। संगठन के प्रदेश महामंत्री आशीष यादव एवं संगठन मंत्री एके सिंह ने कहा कि केन्द्र में भाजपा के सत्ता में आने के बाद से लगातार सरकारी की मजूदर किसान विरोधी, जन विरोधी तथा राष्ट् विरोधी नीतियेा का कड़वा अनुभवन आम जनता को हो रहा है। मौजूदा सरकार हर सरकारी प्रतिष्ठान के निजीकरण पर जोर दे रही है। इस दौरान केन्द्र सरकार ने जुलाई माह में एनएमडीसी के 7.5 प्रतिशत और शेयर बेच दिए है तथा अब एनएमडीसी के पास सिर्फ 60 प्रतिशत शेयर ही बचे है। इस तरह सरकार शैने-शैने निजीकरण की ओर कदम बढ़ा रही है।

नगरनार स्टील प्लंाट का निर्माण पूरा होने से पहले ही प्लांट को बेचने की पूरी तेयारी सरकार ने कर ली है और एक सरकारी कंपनी के प्लांट के लिए जमीन देने वाले भू स्वामी अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहे है। सरकार से हमारी मांगे है कि मजदूर विरोधी श्रम व महिलाओ और जन विरोधी कृषि कानूनो और बिजली संशोधन विधेयक को रद्द करे। सार्वजनिक उपक्रमो और सरकारी विभागो के निजीकरण और विनिवेश को रोेके, बस्तर के नगरनार इस्पात संयंत्र के प्रस्तावित विनिवेश के निर्णय को वापस ले। बेरोजगारी और आजीविका के मुद्दे पर ध्यान दे तथा अधिक रोजगार सृजित करे। मनरेगा का बजट बढाए तथा काम के दिन और पारिश्रमिक बढ़ाए। आयकर के दायर से बाहर रहने वाले परिवारो केलिए प्रतिमाह 7500 रू का नकद हस्तांतरण सुनिश्चित करें। अगले 6 महिने के लिए प्रतिव्यक्ति माह प्रति माह 10 किलो मुफत खाघान्न उपलब्ध कराए। स्वास्थ्य पर बजट में वृद्वि करे। सभी को मुफत टीका सुनिश्चित करते हुए प्रो-काॅपरेट टीकाकरण नीति को प्राप्त करे। कठोर आवश्यक रक्षा सेवा अध्यादेश वापस ले। आवश्यक वस्तुओ, पेट्ोल, डीजल और गैस आदि की कीमतो में भारी वृद्वि को वापस ले। इन 12 मांगो लेकर राष्ट्ीय मजूदर कांग्रेस इंटक प्रदर्शन करेगी।

10 को बैलाडिला से नगरनार तक रैली-

संगठन के पदाधिकारियो ने बताया कि 10 अगस्त को बैलाडिला से जगदलपुर तथा नगरनार से जगदलपुर तक यात्रा निकालकर संभागयुक्त को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जायेगा। इससे पहले 9 अगस्त को अगस्त कं्राति दिवस के अवसर पर नगरनार, बचेली, किंरदुल में सरकारी की मजदूर किसान और जनविरोधी नीतियो के खिलाफ प्रदर्शन कर भारत बचाओ, सार्वजनिक उपक्रम बचाओ, नगरनार बचाओ के नारेा के साथ चरणबद्व आंदोलन का बिगुल फंूका जायेगा।

             दूसरे चरण में बस्तर संभाग के सभी जिलो में जाकर जनजागरण अभियान चलाया जाएगा तथा तृतीय चरण में नगरनार से रायपुर तक नगरनार बचाओ यात्रा निकालकर राष्ट्पति के नाम राज्यपाल को ज्ञापन सौपा जायेगा। राष्ट्ीय मजदूर कांग्रेस इंटक बस्तर की जनता से अपील करती है कि देश को महंगाई, बेरोजगारी, भूखमरी और बदहाली से बचाने के लिए इस देश के मजदूर, किसानो और आम जनता की लडाई को समर्थन देते हुए इस लड़ाई में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले और बस्त्र के अस्मिता के प्रतीक नगरनार इस्पात संयंत्र का विनिवेश करने के केन्द्र सरकार के निर्णय के विरोध में अपनी आवाज बुलंद करे।