breaking news New

सुपरवाइजर मुख्यालय में नहीं रहते हैं जिसके कारण आंगनबाड़ी केंद्रों में सही मॉनिटरिंग नहीं हो पा रही

सुपरवाइजर मुख्यालय में नहीं रहते हैं जिसके कारण आंगनबाड़ी केंद्रों में सही मॉनिटरिंग नहीं हो पा रही

मालखरौदा, 5 फरवरी। मालखरौदा ब्लाक के अंतर्गत संचालित होने वाले आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों के मॉनिटरिंग करने हेतु पुरे ब्लाकों 9 सेक्टर के रूप बांटा गया है, जिसके तहत मालखरौदा को भी एक सेक्टर बनाए गया है। जिसमें  सुपरवाइजर के रूप में  शासन द्वारा जशमीन निराला को पदस्थ  किया गया है। जो अपने सुपरवाइजर पदस्थ दिनांक से लेकर आज तक मुख्यालय में नहीं रहते हैं जिसके कारण आंगनबाड़ी केंद्रों का सही मॉनिटरिंग नहीं हो पा रहा है जिसका जीता जागता उदाहरण है कि बच्चों का रिजल्ट वितरण समय में बच्चों को नहीं मिल पा रहा है। 

अभी हाल ही में देखने को मिला है कि कुछ आंगनबाड़ी केंद्रों में काफी दिनों से सुपरवाइजर जासमीन निराला द्वारा निरीक्षण करने तक नहीं गए हैं जिसके फलस्वरूप देखने क्या मिला की रेडी टू ईट के संचालक सखी सहेली महिला स्व सहायता समूह सतगढ के द्वारा आंगनबाड़ी केंद्रों में पर्ची के हिसाब से माल  नहीं दिया गया है जिसके चलते क्षेत्र के बच्चों को रेडी टू ईट पैकेट नहीं मिल पाया है तो समझा जा सकता है कि मालखरौदा सेक्टर में पदस्थ  सुपरवाइजर अपने मुख्यालय में निवास न बनकर कभी डभरा से तो कभी बिलासपुर से आना करते हैं तो  कैसे आंगनबाड़ी का मानिटरिंग कर रहे सोचा जा सकता है।

सुपरवाइजर जशमीन निराला से फोन से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा, आपको  जानकारी चाहिए तो आफिस में आइए । इसी तरह परियोजना अधिकारी रेखा श्रीवास्तव से फोन पर बात की गई तो उन्होंने कहा, जब मैं आफिस आऊंगी तो बताऊंगी।