breaking news New

तेजस्वी यादव का टीका पर राजनीति ... जाने क्या है मामला

तेजस्वी यादव का टीका पर राजनीति ... जाने क्या है मामला


पटना : पहले कोरोना और अब कोरोना की वैक्सीन को लेकर राजनीति जारी है. एक ओर जहां सरकार बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन ड्राइव चलाकर लोगों को कोरोना से बचाने में लगी हुई हैं. हालांकि, इस दौरान हो रही गलतियों को मुद्दा बनाकर विपक्ष के नेता वैक्सीनेशन से बच रहे हैं. बिहार में अब तक मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी के नेताओं ने वैक्सीन नहीं लगवाई है. तेजस्वी समेत पूरे लालू परिवार फिलहाल वैक्सीन लगवाने को तैयार नहीं है.


तेजस्वी यादव ने रखी ये शर्त 

बीते दिनों तेजस्वी ने वैक्सीन कब लेंगे? के सवाल पर कहा था कि वो तब तक वैक्सीन नहीं लेंगे जबतक 70 प्रतिशत आबादी का वैक्सीनेशन नहीं हो जाता. तेजस्वी के इस बयान के बाद सत्ताधारी दल के नेता हमलावर हैं. अब तक कोरोना का टीका नहीं लगवाने को लेकर वो उन्हें घेर रहे हैं. इसी क्रम में पूर्व मंत्री और जेडीयू नेता नीरज कुमार ने तेजस्वी पर हमला बोला है. 

जेडीयू नेता नीरज कुमार ने सोमवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, " तेजस्वी यादव टीका पर राजनीति तो खूब कर रहे, मगर खुद क्यूं टीका नहीं ले रहे? तेजस्वी जी टीका पर अपनी राजनीति साफ कीजिए! पहले भी आपके बड़े भैया ने टीका पर जो टिप्पणी की थी वो सबको याद है. क्या ये सच नहीं कि आप और आपका परिवार टीकाकरण के खिलाफ है?" 


सुशील मेदी ने भी साधा था निशाना

नीरज कुमार से पहले राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने तेजस्वी के अब तक कोरोना वैक्सीन नहीं लेने पर हमला बोला था. उन्होंने कहा था, " कोरोना की दूसरी लहर के दौरान जब लोग तेजी से संक्रमित हो रहे थे और सरकार युद्धस्तर पर जांच, टीकाकरण और लॉकडाउन का पालन करा कर जीवन बचाने में लगी थी, तब आरजेडी के राजकुमार बिहार से बाहर रह कर सोशल मीडिया पर केवल अनर्गल आरोप लगा रहे थे या अपने सरकारी आवास में अस्पताल खोलने का नाटक कर रहे थे. वे जब स्वयं वैक्सीन लेने को अब भी तैयार नहीं हैं, तब टीकाकरण पर उन्हें कुछ भी बोलने का अधिकार नहीं. लालू परिवार गरीबों को टीका लेने से रोकने के दुष्प्रचार की बड़ी साजिश का हिस्सा है."