breaking news New

अवयस्क बालक को वाहन चलाने देना पड़ा महंगा

अवयस्क बालक को वाहन चलाने देना पड़ा महंगा

न्यायालय ने वाहन स्वामी के ऊपर लगाया 25 हजार का जुर्माना

किशोर न्याय बोर्ड ने भी लगाया 3500 का अर्थदंड

राजकुमार मल

भाटापारा, 17 जून। अवयस्क बालक को वाहन चलाने देना एक वाहन स्वामी को महंगा पड़ गया।मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने उक्त मामले में वाहन स्वामी को अवयस्क बालक को वाहन चलाने देनें पर 25 हजार रूपये सहित कुल 41 हजार का जुर्माना लगाया है।विदित हो कि जिला यातायात निरीक्षक प्रमोद कुमार सिंह ने गत सप्ताह शहर के  बस स्टेंड रोड पर एक अवयस्क बालक को गिट्टी से भरी ट्रेक्टर चलाते पकड़ कर मामला न्यायालय में प्रस्तुत किया था। किशोर न्याय बोर्ड ने भी बालक को पृथक् रूप से 3500 रूपये का अर्थदंड से दण्डित किया है, प्रदेश की सम्भवत ये पहली कार्यवाही होगी जिसमे इतनी बड़ी राशि का जुर्माना न्यायालय ने लगाया होगा।

      छत्तीसगढ़ राज्य के विभिन्न् जिलों में सड़क दुर्घटनाओं एवं मोटरयान अधिनियम के उल्लंघन की समीक्षा आर.के. विज, विशेष पुलिस महानिदेशक, यातायात, पुलिस मुख्यालय रायपुर, छ.ग. एवं संजय शर्मा सहायक पुलिस महानिरीक्षक,यातायात, पुलिस मुख्यालय रायपुर द्वारा की जाकर संशोधित मोटर यान अधिनियम के अंतर्गत् प्रभावी परिवर्तन कार्यवाही के निर्देश दिये गये थे। इसी अनुक्रम के परिपालन में जिला बलौदाबाजार-भाटापारा में यातायात व्यवस्था के दौरान पुलिस अधीक्षक आई. कल्याण ऐलिसेला के निर्देशन एवं अति. पुलिस अधीक्षक श्रीमती निवेदिता पाल के मार्गदर्शन में निरीक्षक प्रमोद कुमार सिंह, थाना यातायात प्रभारी के द्वारा दिनांक 10.06.2021 के 11.45 बजे भाटापारा शहर बस स्टैण्ड में ग्राम परसवानी थाना भाटापारा ग्रामीण से भाटापारा शहर आ रहे वाहन सोनालिका ट्रेक्टर क्रमांक सीजी 04 डीटी 1367 मय ट्राली जिसमें गिट्टी लोड, को वाहन मालिक कृष्ण कुमार हरबंश द्वारा एक अवस्यक बालक से ड्रायविंग कराकर व्यवसायिक कार्य हेतु परिवहन कराते पकड़े जाने पर इश्तगाशा क्रमांक 660/21 पेस किया गया था

       लगभग 2 घंटे तक चले इस अभियान में यातायात नियमो की शर्तों का उल्लंघन करने वाले 51 वाहन चालको के खिलाफ कार्यवाही करते हुए उनसे 19 हजार  300 रूपये समन्स शुल्क वसूल किया गया था ,वही एक 13 साल के अवयस्क बालक को गिट्टी से भरी ट्रैक्टर  क्रमांक सीजी 04 डी टी 1367 को चलाते पकड़ा गया था। नाबालिक बच्चे के द्वारा लोड ट्रैक्टर गाडी चलाते मिलने पर मामले की गंभीरता को देखते हुए यातायात प्रभारी निरीक्षक प्रमोद कुमार सिंह ने वाहन को जब्त कर उसके परिजनो को तलब किया तथा वाहन के स्वामी के खिलाफ मामला पंजीबद्ध करते हुए प्रकरण को न्यायालय के सुपुर्द और अवयस्क बालक के विरुद्ध किशोर न्याय बोर्ड में मामला प्रस्तुत किया था।माननीय न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने अवयस्क बालक को वाहन चलाने दिए जाने के मामले में वाहन स्वामी को 25 हजार रूपये का जुर्माना से दण्डित किया है।ट्रैक्टर ट्राली का रजिस्ट्रेशन नही होने पर 2000 रूपये,,कृषि कार्य हेतु पंजीकृत वाहन पर व्यावसायिक प्रयोग हेतु प्रयोग करने पर 10 हजार रूपये, ट्रैक्टर इंजन व् ट्राली का बीमा ना होने पर 2 दो हजार रूपये सहित कुल 41 हजार रूपये का जुर्माना न्यायालय ने लगाया है। मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 199 क के तहत इतनी बड़ी राशि का जुर्माना सम्भवत प्रदेश का ये पहला मामला होगा जिसे बलौदाबाजार भाटापारा जिले की यातायात पुलिस ने न्यायालय में प्रस्तुत किया। जिला यातायात पुलिस ने किशोर न्याय बोर्ड में भी इस प्रकरण को प्रस्तुत किया था जहाँ  प्रधान न्याय बोर्ड ने 3500 रूपये का अर्थदंड से भी दण्डित किया ।'

     जिला में अवस्यक बालक के द्वारा वाहन चलाने को लेकर उनके वाहन स्वामी एवं पालकों के विरूद्ध संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के अंतर्गत् कार्यवाही लगातार जारी रहेगा। यातायात पुलिस ने वाहन स्वामी एवं पालकों से अपील की है, कि वे अपने नाबालिक बच्चों को वाहन चलाने हेतु न देवें।