breaking news New

बॉर्डर में तैनात सैनिक, मासूम पुत्र की अंतिम दर्शन तक नहीं कर पाया

बॉर्डर में तैनात सैनिक, मासूम पुत्र की अंतिम दर्शन तक नहीं कर पाया

दंतेवाड़ा, 30 मार्च। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में लॉक डाउन के चलते देश की सुरक्षा में तैनात एक सैनिक अपने मासूम बच्चें की अंतिम संस्कार में नही पहुंच पाया।

इस मार्मिक पल में वीडियो कॉलिंग के जरिये सैनिक को अपने जिगर के टुकड़े को दिखाया गया और उसके बाद मासूम का अंतिम संस्कार किया गया।

मासूम आदित्य के पिता नेपाल बॉर्डर में तैनात है। हवलदार राजकुमार दंतेवाड़ा जिले के घोटपाल का रहने वाला है। सालभर पहले राजकुमार छुट्टी पर आये थे। उनका मासूम बेटा आदित्य ट्यूमर की समस्या से जूझ रहा था। जनवरी में बेटे के इलाज के लिए राजकुमार घोटपाल आए थे और इलाज के लिये हैदराबाद भी ले गये। इलाज के बाद बच्चे की तबियत में सुधार देखते हुए राजकुमार वापस देश की सुरक्षा में चले गए। आदित्य ठीक हो गया था, लेकिन पिछले बुधवार को अचानक उसकी तबियत बिगड़ने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई।

मासूम की मौत की जानकारी जब राजकुमार को दी गई तब तक देश में लॉक डाउन की घोषणा हो चुकी थी परिवहन सेवा ठप्प हो गई जिसके चलते पिता अपने जिगर के टुकड़े को आखरी बार देखने पहुँच नहीं पाये, अंतिम संस्कार के पूर्व बेबस पिता को वीडियो कॉलिंग के जरिये बच्चे का चेहरा दिखाया गया और अंतिम संस्कार किया गया।

राजकुमार को अब लॉक डाउन खत्म होने का इन्तजार है जब वे अपने घर पहुँच कर परिजानों को ढांढस बँधाये।