breaking news New

दवा विक्रेता संघ दंतेवाड़ा बीजपुर सुकमा ने की फ्रंट लाइन वर्कर घोषित करने की मांग - महासचिव गोपाल मंडल

दवा विक्रेता संघ दंतेवाड़ा बीजपुर सुकमा ने की फ्रंट लाइन वर्कर घोषित करने की मांग - महासचिव गोपाल मंडल


बीजापुर, 27 मई। आल इंडिया आर्गनाईजेसन  ऑफकेमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के निर्देशानुसार दवा विक्रेता संघ बीजापुर सुकमा दंतेवाड़ा  के महासचिव गोपाल मंडल ने कहा है कि हम अपने सदस्यों के हितों के संरक्षण हेतु समस्त व्यापारियों की तरह हम भी लॉक डाउन में शामिल होने के लिए विचार विमर्श कर रहे है । 

जिला अध्यक्ष विनोद मिश्रा सचिव गोपाल मंडल  कोषाअध्यक्ष ए. एच.सिद्धिक्की ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि भारत के 9 लाख 40 हजार केमिष्ट तमाम खतरों के बावजूद भी बिना किसी आराम के पीड़ित मानवता के सेवा में निरंतर दवा उपलब्ध कराया जा रहा है । दवा विक्रेताओं के महत्व पत्रकार वकील सफाई कर्मी डॉक्टर नर्स हॉस्पिटल स्टाफ से कम नही आंका जा सकता है । अनेकों ज्ञापन के बाद भी केमिस्टों को कोविड वारियर्स नहीं घोषित  किया गया न ही हमे वेक्सीनेसन में प्राथमिकता दी गई गत वर्ष पूरे देश मे आपात की घड़ी में केमिस्टों ने अपना बहुमूल्य योगदान और लगभग 650 केमिष्ट कोरोना से जंग हार गए । दवा बेचने के बावजूद हम अपने परिवार को समय पर रेमडेशिविरऔर टोसिजुमेव इंजेक्शन उपलब्ध नहीं करा सकते है इससे ज्यादा दुःखद और क्या हो सकता है। इसके चलते केमिस्टों के परिवार के कई परिजन देवलोक सिधार चुके है ।  इसी के अनरूप केमिस्टों की मांग है कि हमे कोविड वारियर्स का दर्जा दिया जाए  एवं अन्य कोरोना वारियर्स की तरह हमे भी वेक्सीनेसन में प्राथमिकता मिलना चाहिए अन्यथा अन्य व्यपारियों की तरह हमे भी मजबूरन लॉकडाउन की ओर अग्रसर होना पड़ेगा।