breaking news New

दुर्ग पुलिस की अभिनव पहल: शहीद पुलिस कर्मियों की याद में पेंटिंग प्रतियोगिता, 60 से ज्यादा बच्चों ने लिया भाग

दुर्ग पुलिस की अभिनव पहल: शहीद पुलिस कर्मियों की याद में पेंटिंग प्रतियोगिता, 60 से ज्यादा  बच्चों ने लिया भाग

रमेश गुप्ता/ भिलाई। दुर्ग पुलिस द्वारा शहीद पुलिस कर्मियों के योगदान की याद में रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम सेक्टर-6 में पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया। इस प्रतियोगिता की थीम शहीद पुलिस कर्मियों के योगदान का रेखांकन रखा गया। दुर्ग भिलाई के 60 से अधिक बच्चों ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया। बच्चों ने शहीद पुलिस कर्मियों के योगदान को अपनी कल्पनाओं से साकार किया। इस दौरान दुर्ग पुलिस के अधिकारी मौजूद रहे। 

पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रतियोगिता में बच्चों ने अपने कौशल का बखूबी प्रदर्शन किया। दुर्ग पुलिस द्वारा ओपन प्रतियोगिता रखी गई जिसमें तीन कैटेगरी बनाई गई। भाग लेने वाले बच्चों ने ड्राइंग मटेरियल अपने साथ लाए, लेकिन जो बच्चे ड्राइंग मटेरियल नहीं ला पाए उन्हें पुलिस विभाग द्वारा कलर पेंसिल व ड्राइंग शीट उपलब्ध कराई गई। प्रतियोगिता में बच्चों ने बड़े ही उत्साह पूर्वक भाग लिया। शहीद पुलिस कर्मियों को अपने पेंटिंग में जीवंत कर दिया जिसकी पुलिस अधिकारियों ने भूरी भूरी प्रशंसा की। 

बच्चों ने दिखाए कई रंग

प्रतियोगिता के दौरान निरीक्षण कर रहे अधिकारियों ने बच्चों की कलात्मकता को सराहा। विषयापुसार बच्चों ने अपनी कल्पना को रंगों का रूप दिया और शहीद पुलिस कर्मियों के योगदान की याद ताजा कर दी। अधिकारियों ने कहा कि बच्चों ने ऐसी कलाकारी दिखाई है जिसकी उम्मीद नहीं की जा सकती। वहीं बच्चों ने भी दुर्ग पुलिस की इस प्रतियोगिता की काफी सराहना की। बच्चों के साथ आए परिजनों ने इस आयोजन की सराहना की। 

एसपी देंगे प्रशस्तिपत्र 

प्रतियोगिता के निर्णायकों की एक समिति बनाई गई जिसमें एएसपी सहित अन्य अधिकारियों को शामिल किया गया है। प्रतियोगिता बच्चों की बनाई पेंटिंग्स में बेस्ट का चयन किया जाएगा। विजेता प्रतिभागी बच्चों को जिले के एसपी बद्री नारायण मीणा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करेंगे। प्रतियोगिता के संदर्भ में अधिकारियों का कहना है कि ऐसी प्रतियोगिताओं से बच्चों का मनोबल बढ़ता है और जीवन में कुछ नया करने की प्रेरणा मिलती है।