breaking news New

मॉर्निंगवॉक में निकली युवतियो को ठोकर मारने वाला ट्रक अनिल चौधरी का निकला

मॉर्निंगवॉक में निकली युवतियो को ठोकर मारने वाला ट्रक अनिल चौधरी का निकला

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने आरोपी को ढूंढ निकाला

भानुप्रतापपुर। 18 दिन के बाद  सुबह मॉर्निंगवॉक में निकली दो युवती को जगनाथ लिखा हुआ अज्ञात ट्रक ने ठोकर मार कर घटना स्थल से फरार हो गया था। जिसे आज पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज व कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी को ढूंढ निकाली है। ट्रक दुर्गुकोंदल निवासी अनिल चौधरी का है, जिसे वाहन चालक कमलकांत शिवना चला रहा था। आरोपी चालक को गिरफ्तार कर कार्यवाही की जा रही है। 

 पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 12 नवम्बर की सुबह वार्ड क्रमांक 12 के दो युवती पूजा यादव एवं माहेश्वरी जैन प्रतिदिन की भांति मॉर्निंगवॉक में निकली थी जैसे ही अंतागढ़ रोड़ सिध्धुबाड़ा के पास पहुची थी ट्रक चालक द्वारा नशे में धुत लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाते हुए दोनों युवती को ठोकर मारते हुए घटना स्थल से फरार हो गया था। ट्रक के चपेट में आने से एक युवती का हाथ के हड्डी दूट गई वही दूसरे युवती के कमर व चेहरे में गंभीर चोट आई थी। घटना की जानकारी प्रार्थी दिलीप यादव पिता चरण सिंह यादव भानुप्रताप पुर ने पुलिस थाना भानुप्रतापपुर दर्ज कराई। पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ 210/ 2020 धारा 279,337 भादवि विवेचना में लिया। जिसे आज सीसीटीवी फुटेज व कड़ी मशक्कत के बाद ट्रक की पहचान कर ली गई है। उक्त ट्रक वाहन सीजी 08 ए 9399 मालिक अनिल चौधरी पिता स्व धरमपाल उम्र 39 वर्ष दुर्गुकोंदल है। वाहन चालक कमलकांत शिवना पिता जगनाथ शिवना की गिरफ्तार कर कार्यवाही की जा रही है। 

कार्यवाही को लेकर वार्डवासियों द्वारा चक्काजाम

गत दिवस 18 नवम्बर को वार्डवासियो एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा एक्सीडेंट किये गए ट्रक वाहन चालक को गिरफ्तार नही किये जाने को लेकर पुलिस प्रशासन पर दबाव डालते हुए चक्काजाम भी किया गया। एवं कलेक्टर के नाम से तहसीलदार को ज्ञापन सौपा गया था।आरोपी के तलाश के साथ ही यातायात को दुरुस्त करने एवं भारी वाहनों के आवागमन में समय सीमा निर्धारण की बात कही गई थी।

नगर में बढ़ते एक्सीडेंट  से लोगो मे रो

विगत कुछ महीनों से नगर सहित आसपास क्षेत्र में वाहन दुर्घटना से कई लोग काल के गाल में समा गए है। वही अब तक कुछ  आरोपी अभी भी पुलिस के गिरफ्त से बाहर है। जिससे पुलिस विभाग के प्रति लोगो मे नाराजगी ब्याप्त है।