breaking news New

बेलगाम घोड़ा है सोशल मीडिया, नियंत्रित करने के लिये प्रशिक्षण जरुरी

बेलगाम घोड़ा है सोशल मीडिया, नियंत्रित करने के लिये प्रशिक्षण जरुरी

लखनऊ।  सोशल मीडिया को बेलगाम घोड़े की संज्ञा से नवाजते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मीडिया के इस स्वरूप को नियंत्रित करने के लिये प्रशिक्षण की आवश्यकता है।

प्रदेश भाजपा की आईटी एवं सोशल मीडिया विभाग की कार्यशाला को संबोधित करते हुये श्री योगी ने शुक्रवार को कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार की नकारात्मक छवि प्रस्तुत करने वालों को जवाब देने की जरूरत है। इसलिये मुहूर्त देखे बिना सोशल मीडिया पर सक्रिय होना पड़ेगा। हम सच्चाई को सामने रखने का प्रयास नहीं करते जो हमारी कमी है। इस कमी का ही फायदा वो लोग उठाते हैं। हमें प्रोफेशनल तरीके से टीम बनाकर काम करना होगा। मुठ्ठी भर लोग जो माहौल खराब करने का काम कर रहे हैं उनको जवाब देना होगा।

उन्होंने कहा “ दो दशक में मीडिया में बहुत बदलाव आया है। हम लोगों ने जब राजनीति शुरू की थी तो प्रिंट मीडिया का बोलबाला था जो सही सूत्रों से जानकारी लेता था लेकिन इसके बाद जिस एक मीडिया ने धमक बनाई है वो बिन माई बाप का है अगर आपकी पहले से तैयारी नही है तो आप इनसे प्रभावित हो सकते हैं। इसलिये सोशल मीडिया की भूमिका से हम कतई अपने आप को अलग नहीं कर सकते।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया की भूमिका से सकारात्मक रूप से आगे बढ़ना होगा। ऐसी रणनीति से विपक्षियों को बैकफुट पर जाने को मजबूर करना होगा। इसके लिऐ बेहतर व्यूह रचना भी तैयार करनी होगी। कोई किसानों पर चर्चा करता है तो उनको बताइयें कि 45 लाख गन्ना किसानों को 1.40 लाख करोड़ रुपए से अधिक गन्ना मूल्य का भुगतान किया। हम सरकार की उपलब्धियों में अपने शब्दों को जोड़कर और प्रभावी बना सकते हैं। हमपर कोई आरोप लगाता है तो उनसे पूछना चाहिये कि वो चार लाख युवाओ का इंटरव्यू क्यों नहीं लेते हैं।

उन्होने कहा कि आज का प्रशिक्षण अत्यंत महत्वपूर्ण है। हम जिस विचार प्रवाह से जुडे हैं। यहां दल से ऊपर देश को मानकर चला जाता है। इसीलिये हमें वर्तमान की अपनी भूमिका को स्पष्ट रूप से रेखांकित करना होगा। क्या कोई सोचता था कश्मीर में धारा 370 समाप्त होगी। अयोध्या में राम जन्म भूमि का मुद्दा इतनी सरलता से हो जाएगा। हम तुलनात्मक आंकड़े प्रस्तुत नहीं कर पाते। हमारी सरकार ने गरीब कल्याण के लिये जो कार्य किये, जनधन योजना से लोगों को लाभान्वित किया। फ्री गैस कनेक्शन दिए, 10 करोड़ किसानों को लाभ दिया। लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिको को फ्री में राशन, फ्री में वैक्सीन जैसी उपलब्धियों की हम चर्चा नहीं करते। आवास योजना में 40 लाख लोगों को आवास उपलब्ध कराया जा चुका है। लेकिन यह चर्चा का विषय नहीं बनता। लाभार्थियों से मिलकर उनके जीवन में क्या परिवर्तन आया इसका वीडियो बनाएं।