breaking news New

अवैध को वैध बना कर हजारों ढकारने के जुगाड़,गौठान में वर्मी कम्पोस्ट टाका निर्माण में जंगल की गिट्टी का उपयोग

अवैध को वैध बना कर हजारों ढकारने के जुगाड़,गौठान में वर्मी कम्पोस्ट टाका निर्माण में जंगल की गिट्टी का उपयोग


ईंट भी घटिया क्वलिटी का, पूर्व निर्माण कार्य मे टांकों में पड़ी दरारे बया कर रही भ्रष्टाचार की गाथा.......

कोरिया, 22 मार्च। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए भूपेश सरकार ने महिलाओं के लिए  नवा बिहान योजना लेकर आई है।  जिसमें महिलाओं का समूह बना कर कई साधनों को आए का स्रोत बना रही है। सरकार के सहयोग से महिलाओ के चेहरे पर मुश्कान साफ साफ नजर आ रही है । इसी मुस्कान के साँथ महिलाएं सरकार से मिली सुविधाओ से आए के जरिए में काफी दिलचस्पी दिखा रही है ।


 सरकार के मंशानुरूप गौठान में वर्मी कम्पोस्ट निर्माण हेतु वर्मी कम्पोस्ट टांका का निर्माण कार्य किया जा रहा । जिस पर महिला समूह वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण करेगी और आए का साधन बनेगा , लेकिन सरकार के सहयोग से वर्मी कम्पोस्ट टांको का निर्माण कार्य विभिन्न विभागों को एजेंसी बना कर कराया जा रहा जिस पर महिलाए कछुआ खाद निर्मित करेंगे निर्माण एजेंसी अपनी भूमिका कैसे निभा रहा है अब हम आपको ये बताते है।


सोनहत विकासखण्ड के ग्राम पंचायत बोडॉर में गौठान परिसर में वर्मीकम्पोस्ट टांका  निर्माण का कार्य उपसंचालक कृषि विभाग कोरिया को सौंपी गई है। जिसकी देख रेख सोनहत कृषि विभाग के कृषि विस्तार अधिकारी(आरईओ) की जिम्मेदारी बनती है। इनके द्वारा कथित ठेकेदार को लाभ पहुचाने का कार्य किया जा रहा है। जंगल की गिट्टी का उपयोग कर शासन से प्राप्त रुपयों को वैध तरीके से अवैध कार्य कर आहरण कर बंदर बांट करने के फिराक में है वही घटिया दर्जे की ईंट का भी उपयोग किया जा रहा है । माप डंडों को दरकिनार कर घटिया वर्मीकम्पोस्ट निर्माण किया जा रहा है । जिसका खामियाजा महिला समूह को भुगतना पड़ सकता है। पूर्व में निर्माण हुए टांकों में दरारे पड़ने लगी है उसके बाद भी वर्तमान निर्माण में माप डंडो को दरकिनार करते हुए जैसे तैसे टांको का निर्माण विभागीय देख रेख में कथित ठेकेदार द्वारा कराया जा रहा जो जांच का विषय है ।