breaking news New

छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारियों की 11वाॅ दिनों का पदयात्रा

छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारियों की 11वाॅ दिनों का पदयात्रा

बीजापुर।  छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी 4 अप्रैल से अपनी दो सुत्रीय मांगो को लेकर  निरंतर हड़ताल पर बैठे हुए हैं। 1.चुनावी जन्म घोषणा पत्र को आत्मसात करते हुए समस्त मनरेगा कर्मचारियों का नियमितीकरण किया जावे 2. नियमितीकरण की प्रक्रिया पूर्ण उन्होंने तक ग्राम रोजगार सहायकों का वेतन निर्धारण करते हुए समस्त मनरेगा कर्मियों पर सिविल सेवा नियम 1966 के साथ पंचायत कर्मी नियमावली लागू किया !

जावे 9 दिनों के हड़ताल के बाद भी राज्य सरकार के द्वारा किसी प्रकार को कोई जवाब न मिलने के कारह राज्य के 28 जिलों के मनरेगा कर्मचारियों द्वारा दांडी यात्रा का रास्ता अपनाते हुए समस्त जिलों के मनरेगा अधिकारी कर्मचारी दन्तेवाड़ा जिले से पदयात्रा (दांडी यात्रा) 12 अप्रैल को मां दन्तेश्वरी का आर्शीवाद लेकर 400 किलो मीटर रायपुर का सफर तय कर अपनी मांगों लेकर सरकार को गुहार लगा रहे हैं पदयात्रा में शामिल रोजगार सहायक शिव कुमार झाड़ी ने बताया कि सरकार हमारी मांगों को जब तक पुरा नहीं करती तब तक हम  डटे रहेंगे सरकार को हमारी मांगों को पूरा करना ही होगा 6000 मानदेय से हमारा घर तक नहीं चल पाता पूर्व में भी सरकार आश्वासन देकर मांगे पूरा नहीं किया था लेकिन  अब सरकार को हमारी मांगे पूरी करनी होगी जब तक नहीं करेगी सरकार तब तक हम हड़ताल पर  रहेंगे।