तकनीक उपचार प्रयोग के तौर पर शुरू किया जायेगा प्लाज्मा तकनीक से उपचार: केजरीवाल

तकनीक उपचार प्रयोग के तौर पर शुरू किया जायेगा प्लाज्मा तकनीक से उपचार: केजरीवाल


नयी दिल्ली।  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को काेरोना वायरस ‘कोविड-19’ से निपटने को बड़ी चुनौती मानते हुए कहा कि केंद्र सरकार से कोरोना वायरस के संक्रमितों का प्लाज्मा तकनीक से उपचार की अनुमति मिल गई है और तीन-चार दिन में इसका प्रयोग के तौर पर इस्तेमाल शुरू कर दिया जायेगा।

श्री केजरीवाल ने उम्मीद जताई की प्लाज्मा तकनीक के अच्छे परिणाम सामने आयेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार वायरस की चुनौती से निपटने के लिये एहतियात के तौर पर हरसंभव कदम उठा रही है और इलाकों का सर्वे कराया जाता है तथा जो भी आवश्यक कदम उठाने की जरूरत हैं, वे उठाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 57 क्षेत्र हाॅटस्पाॅट के रूप में चिह्नित कर सील किये गये हैं। इन इलाकों में आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं हैं। विभिन्न इलाकों को सेनेटाइज करने का काम पूरी गति से जारी है। पैंतीस विधानसभा क्षेत्रों को सेनेटाइज का काम किया गया है। अट्ठारह रेड जोन और 64 ओरेंज जोन को सेनेटाइज किया गया है।

 केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत में कहा, “ हमने प्लाज़्मा टेक्नॉलॉजी का प्रयोग करने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा है। 

chandra shekhar