breaking news New

आखिर कौन है दीप सिद्धू? जिस पर लगा हिंसा को भड़काने का आरोप

आखिर कौन है दीप सिद्धू? जिस पर लगा हिंसा को भड़काने का आरोप

गणतंत्र दिवस पर हिंसा के बाद एक नाम सबसे ज्यादा सुर्खियों में है और वो नाम दीप सिद्धू का है। गणतंत्र दिवस के मौके हुई हिंसा पर देश ने जो कुछ देखा, ऐसा इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ था। उपद्रवी लाल किले की प्राचीर पर चढ़ गए। उपद्रवियों ने ना सिर्फ कुछ समय के लिए लाल किले पर कब्जा किया बल्कि अपना झंडा भी फहरा दिया। अब किसानों का एक बड़ा वर्ग इस घटना का आरोप कुछ चुनिंदा लोगों पर लगा रहा है।

किसान नेताओं ने लाल किले पर हुए प्रदर्शन का जिम्मेदार दीप सिद्धू को ठहरा दिया है। घटना के बाद से ही दीप सिद्धू फरार है। एनआईए ने उसे समन जारी किया है। हालांकि उसने फेसबुक पर आकर कहा है ‘हमने प्रदर्शन के अपने लोकतांत्रिक अधिकार के तहत  निशान साहिब का झंडा लाल किले पर फहराया लेकिन भारतीय झंडे को नहीं हटाया गया। ‘

एक्टिविस्ट योगेंद्र यादव ने भी कहा कि दीप सिद्धू और गैंगेस्टर से नेता बने लखा सिधाना ने पिछली रात सिंघु बॉर्डर पर भी किसानों को भड़काने की कोशिश की। योगेन्द्र यादव ने पूरे मामले की जांच कराने को कहा है।

कौन है दीप सिद्धू

दीप सिद्धू का जन्म 1984 को पंजाब के मुक्तरस जिले में हुआ था। दीप सिद्धू ने कानूनी की पढ़ाई की है, वह कुछ समय के लिए बार का सदस्य भी था, इसके बाद उसने किंगफिशर मॉडल हंट का खिताब जीता था। 2015 में दीप सिद्धू ने अपनी पहली पंजाबी फिल्म रमता जोगी की। लेकिन दीप को लोकप्रियता 2018 में मिली जब उसकी फिल्म जोरा दास नुंबरिया रिलीज हुई, इस फिल्म में दीप ने गैंगस्टर की भूमिका निभाई थी।

किसान आंदोलन में शुरुआत से शामिल दीप सिद्धू ने बाद में अनिश्चितकाल धरने में शामिल होने का फैसला लिया और वह शंभू बॉर्डर में धरने पर बैठ गया और उसने सोशल मीडिया के जरिए लोगों को जोड़ना शुरू किया और पंजाब में किसानों की समस्या को बताना शुरू किया। कई किसानों ने उसका विरोध किया, उसपर भाजपा-आरएसएस का एजेंट होने का भी आरोप लगाया। लोगों ने दीप सिद्धू की तस्वीर पीएम मोदी, सनी देओल के साथ साझा की। हालांकि दीप इन आरोपों को खारिज करता आया है।

2019 लोकसभा चुनाव के वक्त साथ थे सनी और दीप

सनी देओल की प्रचार टीम का हिस्सा गौर करने वाली बात यह है कि दीप 2019 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के सांसद सनी देओल की प्रचार टीम का भी हिस्सा था। लाल किले की घटना पर दुख जाहिर करते हुए सनी देओल ने कहा कि मैंने 6 दिसंबर को ट्विटर के जरिए कहा था कि ना तो मेरा और ना ही मेरे परिवार का कोई भी संबंध दीप सिद्धू से है। बता दें कि 25 सितंबर को बड़ी संखअया में किसानों ने शंभू बॉर्डर पर धरना शुरू किया था, इसमे कई कलाकार भी शामिल हुए थे। इन कलाकारों में दीप सिद्धू भी किसानों के साथ प्रदर्शन में शामिल हुआ था।

एक वीडियो भी वायरल है जिसमें दीप सनी देओल के साथ रोड शो करते नजर आ रहे हैं। दीप से जब किसी पत्रकार ने पंजाबी में पूछा कि आपको इतनी भीड़ देखकर कैसा लग रहा है? तो वो कहते हैं कि बहुत अच्छा लग रहा है, सनी भाई के लिए इतनी भीड़ आयी है।

हालांकि लाल किले पर हुई हिंसक घटना के बाद सनी देओल ने एक ट्वीट करते हुए कहा है ‘मेरा या मेरे परिवार का दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है। ‘