breaking news New

Breaking अमरीकी संसद पर हमला, ट्रंप समर्थकों का हंगामा, एक महिला की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

Breaking अमरीकी संसद पर हमला, ट्रंप समर्थकों का हंगामा, एक महिला की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

वाशिंगटन. अमेरिकी कांग्रेस में इलेक्टोरल कॉलेज को गुरूवार को बैठक होनी थी. लेकिन बैठक से पहले ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने जमकर हंगामा किया. देखते ही देखते हालात इतने बिगड़ गये कि वॉशिंगटन डीसी में कर्फ्यू लगाना पड़ा. कैपिटल बिल्डिंग में बढ़ते हंगाने के बाद वॉशिंगटन डीसी में नेशनल गार्ड की तैनाती कर दी गई है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राष्टपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक कैपिटल हिल बिल्डिंग में घुसकर जोरदार हंगामा करने लगे. हंगामें को देखते हुए कांग्रेस को अपनी कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी. इस दौरना पुसिस और ट्रंप समर्थकों के बीच हिंसक झड़पें भी हुई. हंगामे के बीच चली गोली में एक महिला की मौत भी खबर है. वहीं, कई लोग घायल भी हुए है.

हिलेरी क्लिंटन ने कहा- यह लोकतंत्र की नींव पर हमला है. वाशिंगटन में हंगामा उस समय हुआ जब अमेरिकी कांग्रेस में इलेक्टोरल कॉलेज को लेकर बहस चल रही थी. इस मीटिंग में जो बाइडन की चुनावी जीत की पुष्टि की जानी थी. वहीं, हंगामे पर हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि यह लोकतंत्र की नींव पर किया गया हमला है.

अमेरिका के कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा को देखते हुए ट्विटर ने राष्ट्रपति डानाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट को 12 घंटों के लिए बेद कर दिया है. इसके बाद फेसबुक और यू ट्यूब ने भी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के एक वीडियो को हटा दिया. इस विडियो में ट्रंप ने अपने समर्थकों को संबोधित किया था.

जो बाइडन ने कहा- यह राजद्रोह है. अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुने गए जो बाइडन ने भी इस घटना की निंदा की है. उन्होंने ट्वीट किया है कि, मैं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का आह्वान करता हूं कि वो अपनी शपथ पूरी करें और संविधान की रक्षा करें और इस घेराबंदी को समाप्त करने की मांग करें. बाइडेन ने इसे राजद्रोह करार दिया है.

अमेरिका में ट्रंप समर्थकों के हंगामे से बंद हुई इलेक्टोरल वोटों की गिनती को एक बार फिर शुरू कर दी गई है. गिनती पूरी होने के बाद डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन की जीत पर संवैधानिक मुहर लग जाएगी. बता दें, बाइडन 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे.