breaking news New

कलेक्टर को ध्वज प्रतीक लगाकर सशस्त्र सेना झण्डा दिवस का शुभारंभ

कलेक्टर को ध्वज प्रतीक लगाकर सशस्त्र सेना झण्डा दिवस का शुभारंभ


जगदलपुर। शहीद सैनिकों के सम्मान में आज जिले में सशस्त्र सेना झण्डा दिवस मनाया गया। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी विंग कमांडर  जेपी पात्रो और भूतपूर्व सैनिकों ने आज कलेक्टर  रजत बंसल को ध्वज प्रतीक लगाकर सशस्त्र झण्डा दिवस का शुभारंभ किया।

उनके साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  जितेन्द्र कुमार मीणा, वन मण्डलाधिकारी  स्टायलो मंडावी, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी  ऋचा प्रकाश चैधरी को भी ध्वज प्रतीक लगाया गया। कलेक्टर ने आम नागरिकों और अधिकारी-कर्मचारी से सशस्त्र झण्डा पर सहयोग आर्थिक सहयोग प्रदान करने की अपील की।


उल्लेखनीय है कि सेना झण्डा दिवस में प्राप्त राशि का उपयोग युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के परिवारों सेवारत सैनिकों तथा उनके परिवार के पुनर्वास पर खर्च किया जाता हैै। इस दिवस का उद्देश्य देश के पराक्रमी, वीर एवं शहीद सैनिकों का सम्मान करने के साथ बुजुर्गों का आदर करना तथा देश के आम नागरिकों तथा सशस्त्र बलों के मध्य स्थापित पारंपरिक रिश्तों को और मजबूत बनाना है।


उल्लेखनीय है कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस सन 1949 से 7 दिसम्बर को सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इस दिन जल, थल तथा वायु सेना के योद्धाओं द्वारा सैन्य सेवा में दिए गए योगदान को स्मरण किया जाता है।

इसके तीन मुख्य उद्देश्य युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के परिवारों का पुनर्वास, सेवारत सैनिकों तथा उनके परिवारों का कल्याण एवं पुनर्वास तथा भूतपूर्व सैनिकों व उनके परिवार का पुनर्वास कराना है। इस दिन सम्पूर्ण राष्ट्र के नागरिकों तथा संस्थाओं से कार ध्वज, टोकन एवं ध्वज देकर बदले में दान राशि एकत्र की जाती है।