breaking news New

राजस्थान में कोरोना का कहर दम तोड़ने लगा

राजस्थान में कोरोना का कहर दम तोड़ने लगा

जयपुर।  राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर करीब साढ़े तीन हजार रह गई वहीं इससे मरने वालों में भी काफी कमी आई हैं और अब इसकी दूसरी लहर दम तोड़ती नजर आ रही हैं।

चिकित्सा विभाग के अनुसार शनिवार को इसके 3451 सक्रीय मरीज दर्ज किए गए जबकि एक महीने पहले सक्रीय मरीजों की संख्या दो लाख को पार कर गई थी।

राज्य में अब इसके नये मामले भी दो सौ से नीचे आ गये और शनिवार तक नौ लाख 50 हजार 961 मरीजों में नौ लाख 38 हजार 619 मरीज स्वस्थ हो चुके थे। इससे मरीजों के ठीक होने की दर 98़ 70 प्रतिशत पहुंच गई। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या भी घटकर 3451 पहुंच गई और अब तक सामने आये मरीजों में 0़ 36 प्रतिशत मरीज रह गये हैं। राज्य में जयपुर में सर्वाधिक 721 सक्रिय मरीज हैं जबकि नौ जिलों में बीस से कम सक्रिय मरीज रह गये हैं।

राज्य में कोरोना की पहली एवं दूसरी लहर में अब तक 8891 लोगों की मौत हुई हैं जो अब तक आये मरीजों का 0़93 प्रतिशत हैं। राज्य में कोरोना के नये मामलों में अब राजधानी जयपुर को छोड़कर शेष जिलों में पचास से कम नये मामले आ रहे हैं। इनमें शनिवार को बांसवाड़ा, बूंदी, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, सवाईमाधोपुर एवं डूंगरपुर में कोरोना का एक भी नया मामला सामने नहीं आया। इससे मरने वालों में भी काफी कमी आई हैं और शनिवार को जोधपुर, बीकानेर, डूंगरपुर, गंगानगर, राजसमंद एवं उदयपुर में एक-एक मरीज की मौत हुई जबकि शेष 26 जिलों में कोरोना से किसी की मृत्यु होना दर्ज नहीं हुआ।

प्रदेश में कोरोना से अब तक 8891 लोगों की मौत हो चुकी हैं। इनमें सर्वाधिक 1964 मौतें जयपुर में हुई। राज्य में अब तक एक करोड़ 14 लाख 49 हजार 424 लोंगो के नमूने लिए गए हैं।

प्रदेश में कोरोना के कम होने से कोरोना नियंत्रण के लिए लगाई गई पाबंदियों में गत आठ जून से काफी छूट देना शुरु किया और जैसे जैसे कोरोना कम होता गया वैसे वैसे छूट बढा दी गई और अब बाजारों, पर्यटस्थल आदि के खुले जाने से काफी रौनक बढ़ गई हैं। राज्य सरकार ने राजस्थान सतर्क हैं का नारा देते हुए कोरोना की पहली एवं दूसरी लहर के समय से सजग रहते हुए सभी उपाय करते हुए समय समय पर लोगों को जागरुक किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोरोना की पहली लहर से अब तक सैंकड़ों वीडियो कांफ्रेंस कर चुके हैं और वह स्वयं इस पर नजर बनाये हुए हैं।