breaking news New

महापौर ने किया लोक सेवा केन्द्र का औचक निरीक्षण, आवेदकों से काम के बदले अवैध उगाही करने वाले दलालों को किया खबरदार

महापौर ने किया लोक सेवा केन्द्र का औचक निरीक्षण, आवेदकों से काम के बदले अवैध उगाही करने वाले दलालों को किया खबरदार

Ramesh gupta 

भिलाई-3 .. भिलाई - चरोदा नगर निगम के लोक सेवा केन्द्र में दलालों में दलालों की दखलंदाजी से आवेदकों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे दलाल खुद को निगम कर्मी बताकर आने वाले आवेदकों पर लुभावनी बातों का दाना डालकर अपना शिकार बना रहे हैं। आवेदकों से आसानी से काम कराने के एवज में दलालनुमा कुछ लोग अनाप शनाप वसूली करने से बाज नहीं आ रहे हैं। शिकायत पर आज महापौर निर्मल कोसरे ने अचानक दबिश दी तो ऐसे दलाल पतली गली पकड़कर भाग निकले।


        लोक सेवा केन्द्र में जन्म - मृत्यु से लेकर जाति, निवासी और आय संबंधी प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत करने की सुविधा उपलब्ध है। इसके लिए भिलाई - चरोदा नगर निगम कार्यालय के नई बिल्डिंग में प्रतिदिन भीड़ उमड़ती है। लोक सेवा केन्द्र में ही आधार कार्ड संशोधन के लिए भी आवेदन प्रक्रिया पूरी करने की सुविधा है। इसके लिए प्रतिदिन अधिकतम 30 आवेदन लिया जाता है। जबकि आवेदकों की संख्या इससे अधिक रहती है। इसी बात का फायदा कुछ दलालनुमा शख्स उठा रहे हैं। ऐसे लोग आधार कार्ड संशोधन के लिए आने वाले आवेदकों के सामने खुद को निगम कर्मी बताकर जल्दी काम कराने का हवाला देकर दो से ढाई सौ रुपए अतिरिक्त वसूल रहे हैं।

            बताया जा रहा है कि लोक सेवा केन्द्र में दलालों की सक्रियता और उनके द्वारा खुद को निगम कर्मी बताकर आवेदकों से की जा रही अवैध वसूली की शिकायत महापौर निर्मल कोसरे को किसी ने दी। इस पर श्री कोसरे ने आज सुबह निगम पहुंचकर लोक सेवा केन्द्र में दबिश दी। उन्होंने परिसर में बिना किसी काम के घूम रहे संदिग्ध लोगों से पूछताछ किया। इतना ही नहीं लोक सेवा केन्द्र में पदस्थ कर्मचारियों को भी श्री कोसरे ने दलालों की पहचान कर  जानकारी उन्हें देने का निर्देश दिया। इसके साथ ही भिलाई - 3 थाने के टीआई विनय सिंह बघेल को दूरभाष के माध्यम से मामले पर जानकारी दी गई।

           गौरतलब रहे कि शुरुआत में आधार कार्ड बनाते समय बरती गई लापरवाही के चलते अनेक लोगों को दस्तावेजी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। किसी के आधार कार्ड में खुद का और माता पिता का नाम गलत है, तो किसी का जन्म तिथि और पता त्रुटिपूर्ण है। इस तरह के त्रुटिपूर्ण आधार कार्ड में संशोधन के लिए लोक सेवा केन्द्र में प्रतिदिन 30 आवेदन पत्र जमा लिया जाता है। इसमें जो आवेदक वंचित रह जाते हैं उन्हें दलालों के द्वारा घेर लिया जाता है और आवेदन उसी दिन जमा कराने के साथ जल्द से जल्द संशोधन कराने के नाम पर उगाही की जाने की शिकायत मिल रही थी।

आवेदक दलालों से दूर रहे - कोसरे

       महापौर निर्मल कोसरे ने लोक सेवा केन्द्र में अपने काम के सिलसिले में आने वाले आवेदकों को दलालों से दूर रहने की सलाह दी है। इसके साथ ही उन्होंने खुद को निगम कर्मी बताकर आवेदकों को ठगने वाले कतिपय असामाजिक तत्वों को ऐसा नहीं करने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि वे समय - समय पर लोक सेवा केन्द्र का औचक निरीक्षण करते रहेंगे। इस दौरान संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त पाए जाने वाले किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। ऐसे लोगों को पुलिस के हवाले कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। श्री कोसरे ने कहा कि आधार कार्ड संशोधन के लिए किसी प्रकार के शंका कुशंका की स्थिति में आवेदक दलालों के बजाय अपने वार्ड के पार्षदों से संपर्क करें।