breaking news New

जशपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण, लेकिन अनर्गल आरोप लगाने वाले कमलनाथ को शर्म आनी चाहिए - शिवराज

जशपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण, लेकिन अनर्गल आरोप लगाने वाले कमलनाथ को शर्म आनी चाहिए  - शिवराज

बुरहानपुर।  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि पड़ोसी छत्तीसगढ़ राज्य के जशपुर जिले में एक अनियंत्रित वाहन को श्रद्धालुओं पर चढ़ाने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है और इस मामले के आरोपियों के मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में स्थित घरों पर पुलिस ने छापे की कार्रवाई की है।

श्री चौहान ने राज्य के खंडवा संसदीय उपचुनाव के मद्देनजर संसदीय क्षेत्र के अधीन आने वाले बुरहानपुर के फोफनार में चुनावी सभा के बाद मीडिया से चर्चा में यह बात कही। उन्होंने कहा कि इस घटना के दोनों आरोपी सिंगरौली जिले के निवासी हैं। इनके निवास स्थानों पर छापे की कार्रवाई पुलिस ने की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस घटना के मामले में आरोप लगाने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ को शर्म आना चाहिए। वे अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। इस मामले के आरोपी पकड़े जा चुके हैं। सिंगरौली में उनके निवास स्थानों पर पुलिस ने छापे की कार्रवाई की है। जो भी तथ्य हैं, सामने हैं। अनर्गल आरोप लगाना कांग्रेस की आदत बन गयी हैं।

CM  चौहान ने कहा कि  कमलनाथ को विकास और जनसरोकारों से कोई लेनादेना नहीं है। बस वे चाहते हैं कि कोई घटना घटे और वे बदनाम करें। वे पहले कांग्रेस की हालत तो देख लें। केंद्र में  राहुल गांधी हैं और मध्यप्रदेश में श्री कमलनाथ। एक एक कर सबकों निपटा रहे हैं और हम पर आरोप लगा रहे हैं।

जशपुर जिले के पत्थलगांव में श्रद्धालुओं पर जीप चढ़ाने की घटना के दोनों आरोपियों को वहां की पुलिस ने घटना के कुछ देर बाद गिरफ्तार कर लिया था। ये दोनों युवक कथित तौर पर अवैध रूप से गांजा जीप में ले जा रहे थे। दोनों आरोपी मूल रूप से मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिला निवासी हैं।

इस घटना के बाद  कमलनाथ ने ट्वीट के जरिए इस घटना की जांच की मांग की थी और कुछ आरोप भी लगाए थे।