breaking news New

खाद्य पदार्थों का मूल्य पहुँचा सातवा आसमान में ,खरीदने को बेबश है जनता

खाद्य पदार्थों का मूल्य पहुँचा सातवा आसमान में ,खरीदने को बेबश है जनता

किसन लाल विस्वकर्मा

मगरलोड , 29 मार्च। एक तरफ सम्पूर्ण विश्व   महामारी कोरोना जैसे खतरनाक बीमारी को हराने के लिए सरकार  एंव आम जनता हर सम्भव प्रयास कर रहे है ।तो दूसरी तरफ मगरलोड विकास खण्ड के आम जनता कोरोना बीमारी से लड़ने के साथ-साथ आवश्यक खाद्य पदार्थों के दर में हुई मंहगाई से भी लड़ रहे है। ज्ञात हो ,की जैसे ही कोरोना वायरस पुरे छत्तीसगढ़ में हलचल मचा कर रखा है। ठीक उसी तरह मगरलोड विकास खण्ड के अंतर्गत आने वाले नगरों व गाँव में आवश्यक खाद्य पदार्थो व डेलिनीड के समानों के मूल्य आज सातवा आसमान को छू रहा है और आम जनता भी उसे खरीदने को मजबूर है ।यदि आवश्यक खाद्य पदार्थो को नही खरीदता है ।तो आखिर जनता किसे खायेगा, ये बड़ा सवाल है।बता दे की आवश्यक खाद्य पदार्थों जैसे आलू ,प्याज,शक्कर, तेल ,आटा की मूल्यों को व्यापारी वास्तविक मूल्यों से बढाकर उसे दोगुना ,तिगुना मूल्यों में बेच रहा है और तो और नशीला पदार्थों जैसे राजश्री,पान राज,गुड़ाखुड़ को भी वास्तविक दरो से अधिक दरो में बेचा जा रहा है और गाँव की भोली-भाली जनता भी उसे उच्चे दामो में खरीदने को बेबश नजर रहा है।