breaking news New

राहुल गांधी की पार्टी सत्ता में होती तो वैक्सीन के लिए दुनिया के आगे फैलाना पड़ता हाथ : सुशील

राहुल गांधी की पार्टी सत्ता में होती तो वैक्सीन के लिए दुनिया के आगे फैलाना पड़ता हाथ  : सुशील

पटना . बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि इस समय उनकी पार्टी की सरकार होती तो भारत को वैक्सीन के लिए दुनिया के आगे हाथ फैलाना पड़ता।

श्री मोदी ने रविवार को ट्वीट किया, "आजादी के बाद से यह पहला मौका है जब भारत ने किसी महामारी का सामना करने के लिए स्वयं टीका विकसित किया और वह भी संक्रमण का पता चलने के मात्र साल-भर के भीतर। भारत की वैक्सीन और दुनिया में सबसे तेज टीकाकरण पर कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाने के बजाय राहुल गांधी लगातार नकारात्मक टिप्पणी करते रहे लेकिन यदि इस समय उनकी सरकार होती तो भारत को वैक्सीन के लिए दुनिया के आगे हाथ फैलाना पड़ता।"

सांसद ने कहा कि कांग्रेस यह न भूले कि उसके राज में विदेशी टीके से पोलियो उन्मूलन करने में 26 साल लगे थे।

श्री मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वैक्सीन बनाने के लिए अप्रैल-2020 में उच्चस्तरीय टास्क गठित किया और वैक्सीन बनाने की क्षमता रखने वाली चुनिंदा कंपनियों की मदद कर उनका हौसला बढाया। इससे कोवैक्सीन विकसित करने में हमारे चिकित्सा वैज्ञानिकों को सफलता मिली। भारत दुनिया के उन 12 देशों में प्रमुख है जिन्होंने वैक्सीन विकसित कर करोड़ों लोगों में जीवन बचाने का विश्वास जगाया। कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल (राजद), समाजवादी पार्टी (सपा) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) जैसे विपक्षी दलों ने इस उपलब्धि पर भी ओछी राजनीति की।

पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में अब तक सबसे ज्यादा 46 करोड़ टीके लगाये गए जबकि अमेरिका में 33 करोड़ और जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस जैसे अमीर देशों में छह से आठ करोड़ टीके ही लगवाये जा सके। जुलाई में जो 13 करोड़ टीके लगे, उनमें राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद भी हैं, जिन्होंने न टीका बनाने वाले वैज्ञानिकों को बधाई दी न गरीबों से टीका लेने की अपील की।