breaking news New

वैक्सीन लगवाने कोरबा के टीकाकरण केंद्रों में उमड़ी भीड़

वैक्सीन लगवाने कोरबा के टीकाकरण केंद्रों में उमड़ी भीड़

कोरबा । दुनिया भर के लोग जिस कोरोना को लेकर हैरान-परेशान हैं, उसका हौवा औद्योगिक जिले में ना हो, आखिर ऐसा कैसे हो सकता है। हर तरफ  हर कहीं सबसे बड़ा मसला है प्राणों की रक्षा। इसलिए कोरोना संक्रमण से जीवन को सुरक्षा देने वाली वैक्सीन लगवाने वालों की भीड़ केंद्रों में बढ़ रही है। यहां के सियान सदन केंद्र में नजारा ऐसा रहा कि हितग्राहियों की लाइन मुख्य मार्ग तक लग गई। इसे संभालने के लिए गिनती के दो पुलिस कर्मियों को मशक्कत करनी पड़ी।
कोरोना की वजह से जो खतरे पिछले वर्ष से देश और दुनिया में बने हुए हैं, उनका असर अब भी जस के तस कायम है। बीते वर्षों के मुकाबले इस बार कोरोना की लहर ने काफी नुकसान पहुंचाया है। यह दौर अब भी जारी है।

इन सबके बीच देश और दुनिया के वैज्ञानिकों के द्वारा लंबे अध्ययन और अनुसंधान के बाद कोरोना से निपटने के लिए वैक्सीन तैयार की गई। 16 जनवरी से प्रारंभ किये गए टीकाकरण की प्रक्रिया में अब तीसरा चरण शुरू हो गया है। एक मई से छत्तीसगढ़ में इस पर काम प्रारंभ होने के साथ 18 वर्ष से 45 वर्ष तक के लोगों को को वैक्सीन लगाई जा रही है। राज्य में वैक्सीनेशन को लेकर जो केटेगरी सरकार ने तय की थी, उस पर बवाल मचा। हाईकोर्ट की फटकार के बाद अब समानुपात में अंत्योदय, बीपीएल और एपीएल वर्ग को वैक्सीन लगाई जा रही है।

इसके लाभ और अपने जीवन पर मंडरा रहे खतरों को दूर करने के लिए हर कोई पहले लाभ पाना चाहता है। इसलिए टीकाकरण केंद्रों में जमकर भीड़ उमड़ रही है। कोरबा के ओपन थियेटर घंटाघर के पास सियान सदन स्थित टीकाकरण केंद्र में आज जमकर भीड़ उमड़ी। इसका एक छोर केंद्र के पास था तो दूसरा मुख्य मार्ग की तरफ। लोगों को गर्मी के तेवर से कोई मतलब नहीं रहा।

सिर और चेहरे को बचाने के साथ लोगा यहां पर लाइन में लगे नजर आए। इस दौरान तीन दिशा में लाइन लगी और कई बार धक्कामुक्की करते लोग आगे जाने के लिए एक-दूसरे पर हावी होते भी दिखे। इसे देखकर लोगों को मेले-ठेले और राशन दुकान की तस्वीरें याद आई। सुरक्षा के लिए सीमित पुलिस लगाई गई है।