breaking news New

एम्बुलेश उपकरण चूक मामले में हुई मौत पर बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के बयान से एक्शन में आई सरकार

 एम्बुलेश उपकरण चूक मामले में हुई मौत पर बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के बयान से एक्शन में आई सरकार

जगदलपुर।  बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के सयोंजक नवनीत चाँद व जिला सयोंजक भरत कश्यप ने बयान जारी करते हुए कहा कि ,विगत दिनों जगदलपुर के निजी अस्पलाल में भर्ती लोहंडीगुडा ब्लॉक की 22 वर्षीय कुमारी गायत्री सेठिया को उनके परिजनों ने तबियत बिगड़ने पर भर्ती करवाया था ।

जहाँ कुछ दिनों में तबियत पर कोई सुधार न होने पर अन्य राज्य बेहतर इलाज हेतु रिफर करने की बात कही गई ,जिस पर प्रबंधन द्वारा मरीज की गम्भीर हालात को देख,वेंटिलेटर मशीन युक्त एम्बुलेश की व्यवस्था की बात रख मृतक के परिजनों से पैसे जमा करवाये गए । वह प्रबंधन द्वारा सुरक्षा नियम के तहत एम्बुलेश के वेंटिलेटर को चेक किये बिना ,मरीज को जल्दबाजी में अन्य राज्य के लिए रिफर कर दिया गया, शहर के बाहर निकलने से पहले ही निजी अस्पताल के एम्बुलेश के वेंटिलेटर ने काम करना बंद कर दिया .

जिस से मरीज की हालत गम्भीर होने लगी व प्रबंधन की घोर लापरवाही के चलते मरीज गायत्री सेठिया की मृत्यु हो गई।इस गम्भीर मामले में मुक्तिमोर्चा ने बयान जारी व न्याय कैम्पेनिंग चलाई गई । जिसके चलते जिला प्रशासन ने घटना के सप्ताह बाद जिला डिप्टी कलेक्टर गीता रायस्थ को जांच अधिकारी नियुक्त कर मजिस्ट्रीयल जांच करने का आदेश दिया गया है।

मुक्तिमोर्चा ने प्रशासन की इस कदम को परिजनों के लिए न्याय की एक आश बताया है। वह जांच अधिकारी से मिल मृतक परिवार को 50 लाख मुवावजा व सरकारी नोकरी व दोषी निजी अस्पलाल प्रबंधन की लापरवाही की निष्पक्ष जांच व कठोर कार्यवाही की मांग की है। मृतक बालिका के परिजनों ने मामले की शिकायत बोधघाट थाने में भी करवाई है।व न्याय व कार्यवाही की मांग की है। इस दौरान मुक्तिमोर्चा के प्रमुख सयोंजक नवनीत चाँद ,जिला सयोंजक भरत कश्यप, मृतक परिवार से उनके पिता लखेश्वर सेठीया ,युधिष्टर सेठीया ,शहर मुक्ति मोर्चा सयोंजक शोभा गंगोत्रे, कोषाध्यक्ष पूजा गरुदत्ता, महासचिव सुनीता दास,छविलाल सेठिया,मोहन सेठिया,नंदलाल सेठिया,संजय सेठिया,केदार ,बलदेव सेठिया,लक्छ्मण सेठिया,ईश्वर बघेल आदि ग्रामीण मौजूद थे !