breaking news New

कोविड खतरे को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर ने जारी किया छठ पूजा को लेकर गाइडलाइन

कोविड खतरे को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर ने जारी किया छठ पूजा को लेकर  गाइडलाइन

रायपुर।   रायपुर कलेक्टर द्वारा जारी छठ पूजा को लेकर गाइडलाइन लोगो को निराश करने वाला  है। लेकिन  कोविड खतरे की ध्यान में रखते हुए नियमों का पालन भी आवश्यक है। रायपुर कलेक्टर ने निर्देश जारी कर कहा गया है कि छठ पूजा में किसी प्रकार के जुलूस, सभा, रैली या सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जा सकेगा।

राज्य शासन द्वारा जारी किये गए निर्देशानुसार छठ पूजा में सुबह 6 बजे से सुबह 8 बजे तक ही ग्रीन पटाखे फोड़े जा सकेंगे। पूजा स्थलों में किसी प्रकार के बाजार, मेला, दुकान इत्यादि लगाने की अनुमति नहीं होगी। छठ पूजा स्थलों में लाउडस्पीकरों के उपयोग की अनुमति नही होगी। पूजा स्थलों में छोटे बच्चों एवं बुजुर्ग को जाने की अनुमति नही होगी। नदी, तालाब के गहरे पानी में जा कर पूजा करने की अनुमति नहीं होगी।

 छठ महापर्व आयोजन समिति के अध्यक्ष राजेश सिंह ने बताया कि चार दिवसीय छठ महापर्व गुरुवार नवंबर 18 को नहाय खाय के साथ प्रारंभ होगा। जो कि 21 नवंबर तक होगा। छठ महापर्व आयोजन समिति हर साल महादेव घाट रायपुर में सामूहिक छठ पूजा का आयोजन करती आ रही है। मगर इस बार लोगों से घर पर ही पूजा करने को कहा गया है। समिति ने  इस साल छठ पूजा पर सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भंडारे आयोजन नहीं करेगी।

 समिति के सदस्यों ने कहा कि  महादेव घाट एवं रायपुर जिले के तालाबों के किनारे जो भी व्रती पूजा करेंगे वो अपनी स्वंय की जवाबदारी पर करेंगे।