breaking news New

सहकारिता निरीक्षक और पटवारी रिश्वत लेते गिरफ्तार

सहकारिता निरीक्षक और पटवारी रिश्वत लेते गिरफ्तार

इंदौर। मध्यप्रदेश की विशेष स्थापना पुलिस लोकायुक्त ने आज इंदौर में दो अलग-अलग स्थानों पर छापमार कार्रवाई कर एक सहकारिता निरीक्षक और पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

लोकायुक्त पुलिस उप अधीक्षक (डीएसपी) एस.एस. यादव ने बताया भरत जाट निवासी जानकी भवन जेल रोड ने एक लिखित आवेदन किया था। आवेदन में उन्होंने यहां श्रम शिविर स्थित उपायुक्त कार्यालय सहकारिता विभाग में वरिष्ठ निरीक्षक के पद पदस्थ संतोष जोशी पर रिश्वत मांगने के आरोप लगाए थे। शिकायतकर्ता भरत जाट ने अपनी शिकायत में कहा है कि वे शुभ क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी के भंग होने से पहले पदाधिकारी रहे है। उन्होंने इसी कोऑपरेटिव सोसाइटी का विधिवत चुनाव कराने के लिए आवेदन किया था।

श्री यादव ने बताया कि चुनाव कराने के एवज में आरोपी वरिष्ठ निरीक्षक संतोष जोशी ने उनसे बीस हजार रुपये रिश्वत राशि की मांग कर रहे है। जांच में शिकायत सही पाए जाने पर आज जोशी को उन्ही के कार्यालय परिसर की एक चाय की दुकान पर दस हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया गया है।

इसी तरह दूसरी कार्रवाई का नेतृत्व कर रहे डीएसपी प्रवीण सिंह बघेल ने बताया किशोर चौधरी निवासी सोनवाय तहसील राऊ ने राउ के तहसील के सोनवाय में पदस्थ पटवारी अमर सिंह मंडलोई के खिलाफ की थी। श्री चौधरी ने अपनी शिकायत में कहा है कि उनकी राऊ तहसील के सोनयाव में कृषि जमीन है। इस जमीन में से कुछ हिस्सा नहर में चला गया है तथा इसी जमीन का ही कुछ हिस्सा उन्होंने विक्रय कर दिया है। इन्ही दोनों व्यवहार को वे जमीन के शासकीय रिकार्ड पर विधिवत संशोधित कराना चाहते है। इसके एवज में पटवारी मंडलोई उन्हें डराते-धमकाते हुए उनसे एक लाख रुपये रिश्वत की मांग कर रहा है।

जांच में शिकायत सही पाए जाने पर आज मंडलोई को पीड़ित से 20 हजार की पहली क़िस्त बतौर रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त पुलिस दोनों ही मामलों में भ्रष्टाचार निवारण संशोधित अधिनियम की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई कर रही है।