breaking news New

घर में सजाएं खुशियों की बगिया

घर में सजाएं खुशियों की बगिया


प्रकृति को मनुष्य के लिए वरदान माना जाता है। वास्तु के अनुसार घर में पौधे लगाने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ जाता है। घर की बगिया को पौधों से सजाना संवारना चाहते हैं तो वास्तु में बताए गए कुछ आसान से उपायों को अपना सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में। 

माना जाता है कि केले के मूल में भगवान विष्णु का निवास है। यदि शमी वृक्ष पर पीपल उग आए तो वह नर-नारायण का रूप माना जाता है। नीम पर भैरव का निवास और आक पर कामदेव का निवास माना जाता है। तुलसी, पीपल, वट, दूब, अशोक, गूलर, आंवला, नीम, कदंब, बेल, कमल को देव समान पूजा जाता है। घर में तुलसी का पौधा जरूर लगाएं। जिस घर में तुलसी की पूजा होती है, वहां श्री हरि विष्णु की कृपा बनी रहती है। जिनकी शादी में बाधाएं आ रही हों उन्हें केले के पेड़ की पूजा करनी चाहिए। अशोक के पेड़ लगाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। उत्तर दिशा में नीले रंग के फूल देने वाले पौधे जीवन में समृद्धि लाने में सहायक होते हैं। मनीप्लांट, बांस एवं क्रिसमस ट्री वास्तु की दृष्टि में समृद्धि देने वाले माने जाते हैं। गुड़हल का पौधा सूर्य और मंगल से संबंध रखता है। इस पौधे को घर में कहीं भी लगाया जा सकता है। हनुमान जी और मां दुर्गा जी को गुड़हल का फूल अर्पित करने से सारे संकट दूर हो जाते हैं। भगवान शिव को बेल का पेड़ बहुत पंसद है। कहते हैं कि भगवान शिव स्वयं इस वृक्ष में निवास करते हैं। घर में बेल के वृक्ष को लगाने से धन संपदा की देवी लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं। अश्वगंधा का पौधा घर में लगाने से सभी वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। आंवले के पेड़ की पूजा करने से सभी मन्नतें पूरी होती हैं। घर के आसपास सूखा या आधा जला पेड़ अशुभ माना जाता है। घर के सामने इमली या मेहंदी का पेड़ अशुभ माना गया है। घर में गुलाब जैसे कांटेदार पौधे लगाए जा सकते हैं लेकिन इसे छत पर रखें। बेडरूम में किसी भी तरह के पौधे लगाने से बचना चाहिए। बोनसाई पौधा घर में रहने वाले सदस्यों का आर्थिक विकास रोकता है। खुशबूदार फूल वाले पौधे घर के बाहर ही लगाएं। घर में नकली पौधे नहीं लगाने चाहिए। बरगद का पेड़ घर पर नहीं बल्कि मंदिर में लगाना चाहिए। घर में नीम का पेड़ सकारात्मक ऊर्जा बढ़ाता है और कई बीमारियों को भी दूर करता है।