breaking news New

करोड़ की लागत से बने जिला अस्पताल में नवजात शिशु के साथ गर्मी से हलकान माताएं

 करोड़ की लागत से बने जिला अस्पताल में नवजात शिशु के साथ गर्मी से हलकान माताएं


कायाकल्प के नाम से साल में करोड़ों रुपए खर्च किए जाते हैं जिला अस्पताल में
दंतेवाड़ा।  करोड़ों की लागत से बने जिला अस्पताल में जहां नवजात शिशु के साथ माताओं के लिएं सर्व सुविधा युक्त वार्ड बनाया गया है उसकी हालत दैनिय ना तो एसी चालू है नाही पंखे वर्तमान में एक कूलर के भरोसे 3  माताएं अपने नवजात शिशु के साथ रहने को मजबूर है !

जब हमारी टीम अचानक जिला अस्पताल पहुंची तो हमने देखा कि नवजात शिशु के साथ माताएं गर्मी से हलकान हो रही थी सर्व सुविधा युक्त शिशु वार्ड में ना तो ऐसी चल रही है ना ही पंखे नवजात शिशु की माता ने बताया कि यहां पर ऐसी तो लगी है परंतु खराब है वहीं पर पंखे की व्यवस्था नहीं है हम लोग अपने शिष्यों के साथ गर्मी से हालत हाल हो रहे हैं संबंधित डॉक्टर नर्सों को इस संबंध में बताएं गया तो उन्होंने बताया कि या काम मैनेजमेंट काहम कुछ नहीं कर सकते है !

अचरज की बात  यह है कि शिशु वार्ड से अटैच स्टाफ नर्सों की वार्ड में एसी व्हर्लपूल चलाई जा रही है वहीं दूसरी ओर पेशेंट के वार्ड में एसी महीनों से खराब पड़ी है पेशेंट को देखने वाला तक कोई नहीं   है !

जबकि जिला अस्पताल में मैनेजमेंट कायाकल्प के नाम से  हर साल जिला अस्पताल करोड़ों रुपए खर्च करता है !