breaking news New

आमदई खदान बन्द, अबूझमाड़ के हजारो ग्रामीणों ने निकाली रैली और थाना प्रभारी को सौपा अपनी मांगों का ज्ञापन

आमदई खदान बन्द, अबूझमाड़ के हजारो ग्रामीणों ने निकाली रैली और थाना प्रभारी को सौपा अपनी मांगों का ज्ञापन

नारायणपुर / नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ के हजारों की संख्या में  ग्रामीणों ने आमदई खदान बंद करने , जल जंगल जमीन हमारा है , बेगुनाह आदिवासियों को जेल भेजने बन्द करने और नवीन पुलिस केम्प नही खोलने , पीडीएस राशन दुकान ग्राम पंचायतों में खोलने , स्कूल आश्रम छात्रावास पहले संचालित स्थानों में शुरू करने जैसी मांगो को लेकर अबूझमाड़ के ओरछा मुख्यालय में नदी पारा से जनपद पंचायत तक रैली निकालकर कलेक्टर के नाम थाना प्रभारी ओरछा को ज्ञापन सौपा । अबूझमाड़ के हजारों ग्रामीणों ने रैली में जमकर नारे बाजी करते हुए जल जंगल जमीन हमारा है और आदिवासियों पर अत्याचार बंद करने जैसे नारे भी लगाए । अबूझमाड़ के ग्रामीणों की मांग है कि आमदई खादान बंद करने , बेवजह आदिवासियो को जेल भेजने बंद करने , टोनड्डाबेड़ा नवीन केम्प नही लगना है , सोसायटी राशन दुकान अपना अपना पंचायत में लाना है , पहले संचालित जगहों पर स्कूल आश्रम व अध्यापको को वापस लाकर नियमित रूप से चलाना है , प्राथमिक अस्पतालों में नियमित डाक्टर नर्सो की नियुक्ति और गांव गांव में डॉक्टर नर्स सफ्ताह में एक बात भ्रमण कर इलाज करे , पुलिस गस्ती बंद करो पुलिस जवान से कोरोना फैलने का ज्यादा खतरा है , 24 दिसम्बर को पेसा कानून बनाया गया इस दिन को आदिवासी जीत हासिल दिवस के रूप में मनाया जाए , ग्राम सभा का सम्पूर्ण अधिकार है इसे पूर्ण रूप से पालन किया जाए , 


लोकसभा ना विधानसभा सबसे ऊपर ग्राम सभा को माना जाए , सीईओ , बीईओ और तहसीलदार मुख्यालय में रहे इन्ही मांगो का ज्ञापन थाना प्रभारी को ग्रामीणों ने सौपा है ।