breaking news New

सैकड़ों किसान खाद की किल्लत को लेकर भारी नाराजगी, किसान पहुंचे कलेक्ट्रेट

सैकड़ों किसान खाद की किल्लत को लेकर भारी नाराजगी, किसान पहुंचे कलेक्ट्रेट

गरियाबंद। गरियाबंद में किसान खाद की कमी से जुझ रहे हैं, नागाबुड़ा लैंप्स के सैकड़ों किसान खाद की किल्लत को लेकर भारी नाराजगी के बीच जिला कलेक्ट्रेट पहुंच गए यहां अपर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर जल्द खाद की ब्यवस्था कराने की मांग किया है।

क्षेत्र में किसानों ने धान की रोपाई बियासी का कार्य पूर्ण कर लिया है, फसलों में खाद की जरूरत है ऐसे में सोसायटी से किसानो को खाद नहीं मिल पा रहा है ।जिसके चलते किसानों में काफी नाराजगी देखी जा रही है।सोसायटियों में खाद नहीं मिलने से किसान बाजार से महंगे दर पर खाद की खरीदी करने को मजबूर हैं जिससे किसानों को आर्थिक नुकसान हो रहा है।  किसानों ने बताया कि प्रशासन के सुस्त रवैया के चलते किसान खाद के लिए भटक रहा है मजबुरी  में किसान बाजार से महंगे दामों पर खाद लेने को विवश है। किसानों ने कहा मजबूर किसान सोसाइटी से मायूस लौट रहे हैं और कर्ज लेकर बाजार से महंगे दर पर यूरिया डीएपी और राखड़ खाद की खरीदी कर रहे हैं। जिससे किसान काफी परेशान हैं।वहीं इस मामले में अपर कलेक्टर ने किसानों की समस्या जल्द सुलझाने की बात कही है।इस संबंध में किसान नेता चंद्र भूषण चौहान ने बताया कि यूरिया डीएपी पोटाश की बेहद सख्त जरूरत इस समय किसानों को है और ऐसे में अगर खाद नहीं मिली तो किसानों की फसल को खासा नुकसान पहुंचेगा इस समय तक हर बार दूसरी बार हाथ डाल चुके होते थे मगर इस बार पहली बार भी खाद नहीं मिल पाई है हर साल लेंसों सोसायटी किसानों को हाथ लेने के लिए अपनी तरफ से दबाव बनाती थी लेकिन इस बार मांगने पर भी यूरिया नहीं मिल रहा है फसल को इससे खांसी तकलीफ होगी बीमारी लगने का खतरा बढ़ जाएगा।वही इस संबंध में गरियाबंद के अपर कलेक्टर जेआर चौरसिया ने कहा कि डबल लिंक से खाद भिजवाने का प्रयास किया जा रहा है आज शाम या कल दोपहर तक नागा बूडा में खाद पहुंचाने को अधिकारियों को कहा गया है जरूरत के समय खाद उपलब्ध हो जाए इसका पूरा प्रयास प्रशासन कर रहा है।