breaking news New

नौकरी लगाने के नाम पर रेलवे कर्मी ने किया लाखों की ठगी, गिरफ्तार

नौकरी लगाने के नाम पर रेलवे कर्मी ने किया लाखों की ठगी, गिरफ्तार

भिलाई । शिक्षित बेरोजगारों की बढ़ती संख्या के चलते युवक नौकरी लगने के नाम पर आए दिन अपने घर परिवार की मेहनत की कमाई को बिना सोचे समझे गलत लोगों के झांसे में आकर बर्बाद कर रहे हैं। भिलाई क्षेत्र के नेवई थाने से मिली जानकारी के अनुसार तोपचंद धनकर निवासी रिसाली बस्ती रेलवे कर्मी ने बीएसपी कर्मी मनहरण लाल चन्द्राकर निवासी सड़क नं. 20 आशीष नगर पश्चिम निवासी तोपचंद धनकर को अपने राजपाल चन्द्राकर को रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर तीन लाख 20 हजार रूपए दिए।

बार-बार पूछताछ करने पर भी आरोपी द्वारा टाले जाने के उपरांत प्रार्थी ने नेवई थाने में उक्त मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। नेवई थाने से मिली जानकारी के अनुसार उक्त मामले में तोपचंद ने प्रार्थी मनहरण लाल को आश्वासन दिया था कि रेलवे के चरोदा क्षेत्र में ठेकेदारी का काम दिलाने में उसकी उपर तक सेटिंग है। 7 लाख रूपए खर्च करने बाद भी एक नवंबर 2018 को मनहरण ने रिसाली स्थित अपने ओरिएंटल बैंक के अपने खाता क्रमांक 05362010023160 से एक लाख रूपए तोपचंद धनकर के एसबीआई स्थित बैंक खाते में आरटीजीएस के जरिए ट्रांसफर किए।

पुलिस ने बताया कि आरोपी रेलवे का बर्खास्तकर्मी है। नौकरी का आदेश चपरासी के नाम पर निकालने के बाबत भी उसने 2 लाख की ठगी किया है। 6 माह तक पीडि़त को नौकरी नहीं मिली और न ही उसने प्रार्थी को 3 लाख 20 हजार रूपए का चैक फर्जी रूप से दिया जबकि खाते में पैसा ही नहीं था। उक्त मामले में नेवई थाना द्वारा जांच की जा रही है। 

जुर्म दर्ज जांच जारी

इस संबंध में आरएनएसी प्रतिनिधि द्वारा टीआई नेवई थाने से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि शिकायत के बाद जुर्म दर्ज कर प्रकरण को जांच में लिया गया है। रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर यह ठगी का मामला है। आरोपी के खिलाफ अपराध कायम किया गया है। संपूर्ण पूछताछ के बाद मामले को न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा। 

भावेश साव - टीआई नेवई थाना