breaking news New

मुकेश अंबानी फिर बने एशिया TOP , बस दो दिन में चीन के झोंग शानशान को धकेला पीछे!

मुकेश अंबानी फिर बने एशिया TOP , बस दो दिन में चीन के झोंग शानशान को धकेला पीछे!

नई दिल्ली । हाल ही में खबर आई थी कि मुकेश अंबानी अब एशिया के सबसे अमीर शख्स नहीं रहे हैं, उन्हें चीन के झोंग शानशान ने पछाड़ दिया है। लेकिन अब फोर्ब्स की रियल टाइम बिलियनेर की सूची के मुताबिक एक बार फिर से मुकेश अंबानी ने एशिया के सबसे रईस शख्स का खिताब हासिल कर लिया है। फोर्ब्स की दुनिया के टॉप-10 अमीरों की सूची से बाहर हो चुके मुकेश अंबानी फिर से ऊपर चढ़कर 9वें पायदान पर पहुंच गए हैं, जबकि चीन के झोंग शानशान लुढ़क कर 14वें स्थान पर जा पहुंचे हैं। 66 साल के झोंग को चीन के बाहर शायद ही कोई जानता है। उन्होंने अप्रैल में वैक्सीन बनाने वाली कंपनी को पब्लिक किया। और फिर कुछ महीने बाद बोतलबंद पानी बनाने वाली उनकी कंपनी  की हॉन्गकॉन्ग में जोरदार लिस्टिंग की। लिस्ट होने के बाद से कंपनी का शेयर 155 फीसदी चढ़ चुका है। इसी तरह का शेयर 2000 परसेंट से ज्यादा चढ़ चुका है। वह इतिहास में सबसे तेजी से दौलत कमाने वाले अमीरों की फेहरिस्त में हैं। शेयरों में तब उछाल आई जब सिटीग्रुप इंक ने कहा कि कंपनी ने मार्केट में अपने दबदबे को बढ़ाया है और उसके पास पर्याप्त नकदी है। झोंग की दूसरी कंपनी कोविड-19 का वैक्सीन विकसित कर रही है। सरकारी जांच का दायरा बढऩे से चीन की टेक कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई जिसका फायदा झोंग को मिला। जैक मा की संपत्ति अक्टूबर में 61.7 अरब डॉलर थी जो अब घटकर 51.2 अरब डॉलर रह गई है।

ऐसा नहीं है कि किस्मत झोंग पर ऐसे ही मेहरबान हो गई। उन्होंने कई क्षेत्रों में किस्मत आजमाई और फिर इस मुकाम पर पहुंचे। एशिया के सबसे अमीर शख्स बनने से पहले उन्होंने जर्नलिज्म, मशरूम की खेती से लेकर स्वास्थ्य क्षेत्र में हाथ आजमाया और सफलता की सीढिय़ां चढ़ते गए। झोंग राजनीति से बहुत दूर रहते हैं।