कक्षा पहली से दसवी तक के स्कूली बच्चे कर रहे हैं ऑनलाइन पढ़ाई

कक्षा पहली से दसवी तक के स्कूली बच्चे कर रहे हैं ऑनलाइन  पढ़ाई


  रायपुर। नये जमाने के मुताबिक भावी पीढ़ी को शिक्षा देने के लिए छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के निर्देश पर स्कूली बच्चों को ऑनलाइन  शिक्षा दी जा रही है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा बच्चों की पढ़ाई के लिए सीजीस्कूल डाॅट इन  पोर्टल शुरू किया गया है। स्कूली बच्चों को कोरोना संकट के दौरान वर्चुअल क्लास रूम की पायलट प्रोजेक्ट भी शुरू किया गया है। जल्द ही इसे प्रदेश के चुनिंदा जिलों में शुरू करने की योजना बनाई जा रही है। ऑनलाइन  शिक्षा के लिए शुरू किए गए पोर्टल में अब तक 10 लाख 83 हजार विद्यार्थी और एक लाख 41 हजार शिक्षक आॅनलाइन जुड़ चुके हैं। विषय विशेषज्ञ शिक्षकों द्वारा वीडियो लेक्चर तैयार कर अपलोड किया जा रहा है।

“छत्तीसगढ़ शासन ने डिजिटल क्लासरूम का पायलट प्रोजेक्ट कुछ चुनिन्दा स्कूलों में प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला जी के मार्गदर्शन में प्रारंभ किया था। उस समय इसे केवल शिक्षा में तकनीकी का इस्तेमाल कर ऐसी शालाओं में जहां विषय शिक्षक नही हैं, कुशल विषय शिक्षक के माध्यम से अध्यापन का लाभ दिलाने के उद्देश्य से प्रारंभ किया गया था, परन्तु किसे मालूम था कि पूरे विश्व में कोरोना के नाम पर ऐसी आपदा आयेगी जिससे हमारी इस पायलट परियोजना हमारी आवश्यकता या मजबूरी बन जाएगी । इस अनुभव को उपयोग करने का अवसर हमें तत्काल एक माह के भीतर ही मिल गया। छत्तीसगढ़ शायद पहला राज्य है जहां स्कूल शिक्षा विभाग ने बिना किसी बाह्य विशेषज्ञों के एन.आई.सी. के सहयोग से एक सप्ताह के भीतर ही पूरी वेबसाईट बना डाली।”