breaking news New

राजगामी सम्पदा न्यास द्वारा प्रकाशित चंदैनी गोंदा सांस्कृतिक यात्रा का विमोचन

राजगामी सम्पदा न्यास द्वारा प्रकाशित चंदैनी गोंदा सांस्कृतिक यात्रा का विमोचन


विधानसभा अध्यक्ष श्री महंत, मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा अनमोल धरोहर

 रायपुर, 30 जूलाई ।छत्तीसगढ़ में साहित्यिक और सांस्कृतिक जागरण के लिए गठित संस्था "चंदैनी गोंदा"पर केन्द्रित किताब का विमोचन विधानसभा अध्यक्ष श्री चरण दास महंत, मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल के करकमलों से हुआ।राजगामी संपदा न्यास द्वारा प्रकाशित इस ऐतिहासिक किताब को उन्होंने अनमोल धरोहर की संज्ञा दी।साथ छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति के संरक्षण और नयी पीढ़ी के ज्ञान के लिय महत्वपूर्ण कहा।

     1971 में गठित "चंदैनी गोंदा की सांस्कृतिक यात्रा" का श्रमसाध्य सम्पादन डा. सुरेश देशमुख ने किया।पांच सौ पृष्ठों में सजी इस किताब में छत्तीसगढ़ी संस्कृति के पुरोधा, चंदैनी गोंदा के संस्थापक स्व. रामचंद्र देशमुख की श्रमसाधना भी समाहित है।         

         विमोचन कार्यक्रम में राजगामी सम्पदा न्यास के अध्यक्ष श्री विवेक वासनिक,सदस्य सर्वश्री मिहिर झा,रमेश खंडेलवाल, गोवर्धन देशमुख के योगदान की सराहना कर विशिष्ट जनों ने बधाई दी। छत्तीसगढ़ी हिंदी रंगमंच के वरिष्ठ रंगकर्मी श्री विजय मिश्रा "अमित"ने विमोचन कार्यक्रम में सक्रिय भागीदारी दी। 

            विमोचन स्थल में कृषि मंत्री रविंद्र चौबे,गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, वनमंत्री मो. अकबर, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल,शिक्षा मंत्री प्रेमसाय टेकाम, लोकनिर्माण मंत्री गुरु रूद्र कुमार, पूर्व मंत्री वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा, सहित अनेक विधायकगण एवं अन्य प्रतिनिधियों ने किताब को पंचायतों , स्कूल, महाविद्यालयों तक पहुंचाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा चंदैनी गोंदा ने छत्तीसगढ़ीयों के भीतर आत्मविश्वास को जगाया है। कार्यक्रम में न्यास के अध्यक्ष श्री वासनिक सहित सदस्यों ने आभार व्यक्त किया।