breaking news New

2 सूत्री मांगों को लेकर मनरेगा कर्मचारी के अनिश्चित धरना प्रदर्शन को जि पं सदस्य राजेश श्यामकर ने दिया समर्थन

2 सूत्री मांगों को लेकर मनरेगा कर्मचारी के अनिश्चित धरना प्रदर्शन को जि पं सदस्य राजेश श्यामकर ने दिया समर्थन

राजनांदगांव । आज डोंगरगढ़ तहसील कार्यालय के सामने छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ का दो सूत्रीय मांग पूरी नहीं होने के कारण दिनांक 04 अप्रेल से अनिश्चित कालीन आंदोलन / धरना प्रदर्शन को समर्थन प्रदान करने के लिए जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 09 के जिला पंचायत सदस्य राजेश श्यामकर ने अपना समर्थन देते हुए धरने पर बैठ गया और कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेस के राज्य सरकार अपने घोषणापत्र में किए वादे को भूल कर छत्तीसगढ़ की जनता को गुमराह करने के साथ-साथ मनरेगा कर्मचारी महासंघ को अपने दो सूत्रीय मांग को पूरा करने के लिए धरना पर जाना पड़ रहा है, यह बहुत ही दुर्भाग्य की बात है।   

                                                        श्यामकर ने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी योजनांतर्गत कार्यरत अधिकारी / कर्मचारी एवं ग्राम रोजगार सहायकों के द्वारा विगत 16 वर्षो से निरंतर कार्य किये जा रहे है, महात्मा गांधी नरेगा योजना में कई ऐसे अधिकारी / कर्मचारी हैं, जिनकी उम्र 40-45 वर्ष से भी अधिक हो चुकी है !

जिसके कारण नियमित पदों पर आवेदन करने के लिए उनकी निर्धारित उम्र अवधि भी समाप्त हो चुकी है, समय - समय पर विभिन्न माध्यमों से मनरेगा कर्मियों की निरंतर नियमितीकरण सहित अन्य मांगे रही है, किन्तु शासन द्वारा हमारी मांगो पर आज पर्यन्त तक कोई विचार नहीं किया गया है। इस संबंध में छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ के बैनर तले 14 अप्रेल दिन सोमवार को जिला स्तरीय एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं रैली आयोजित किया गया था साथ ही शासन एवं प्रशासन को विभिन्न पत्रों के माध्यम से मिलने का समय मांगा गया था, किन्तु शासन एवं प्रशासन के द्वारा समय नहीं दिया गया और न ही मांगों का निराकरण किया गया।

जिसके कारण विवष होकर " छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ के बैनर तले " 04 अप्रैल , 2022 दिन सोमवार से छत्तीसगढ़ प्रदेश के समस्त 28 जिलों के सभी मनरेगा कर्मी अनिश्चित कालीन धरना मे जा रहे हैं।

छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ की 02 सूत्रीय मांग : 1. चुनावी जन घोषणा पत्र को आत्मसात करते हुए समस्त मनरेगा कर्मियों का नियमितीकरण किया जावे । 2. नियमितीकरण की प्रक्रिया पूर्ण होने तक ग्राम रोजगार सहायकों का वेतनमान निर्धारण करते हुए समस्त मनरेगा कर्मियों पर सिविल सेवा नियम 1966 के साथ पंचायत कर्मी नियमावली लागू किया जावे ।

 जिला / ब्लॉक स्तरीय मनरेगा कर्मियों के अनिश्चित कालीन धरने में हम रखते है तथा आंदोलन / धरना अवधि छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ के उपरोक्त मांगो हेतु 04 अप्रेल, दिन- सोमवार आपके समर्थन की अपेक्षा में मांगों का समर्थन करते हुए ग्राम पंचायतों में मनरेगा के कार्यों का संचालन स्थागित रखा जाएगा ।

ताकि शासन जायज मांगो पर गंभीरता पूर्वक विचार करें। मनरेगा कर्मचारी के साथ धरना प्रदर्शन में राजेश श्यामकर के साथ मुख्य रूप से मंडल अध्यक्ष जागेश्वर साहू, युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष ललित साहू, नरेंद्र वर्मा व डोंगरगढ़ के पार्षद राकेश अग्रवाल उपस्थित थे।