breaking news New

गांव, गरीब, मजदूर, किसान को सपना दिखाने वाला बजट : कमल सोनी

गांव, गरीब, मजदूर, किसान को सपना दिखाने वाला बजट : कमल सोनी

 

राजनांदगांव, 3 मार्च।  छत्तीसगढ़ सरकार की तीसरे बजट सिर्फ गांव गरीब किसानों को सपना दिखाने वाले बजट है। जिस गांव, गरीब, किसानों को विकास और रोजगार का सपना दिखाकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार को आगामी विधानसभा सभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के गांव, गरीब, किसान उनको सबक सिखाते हुए कुर्सी से बेदखल करके पुनः भाजपा को सरकार बनाने का मौका देगा। 

जिला भाजपा सोशल मीडिया प्रभारी व युवा नेता कमल सोनी ने कहा है भाजपा की 15 साल की विकास व कांग्रेस की कुछ सालों का विकास छत्तीसगढ़ की आम जनता समझ चुके हैं, कांग्रेस की कथनी और करनी में कितना अंतर है, बहुत जल्दी व कम समय में ही समझ गए हैं, इसलिए सरकार को भी मालूम है, दोबारा छत्तीसगढ़ के जनता पुनः कांग्रेसी सरकार बनाने का मौका नहीं देगा। इसलिए कांग्रेस का अपना तीसरी बजट में गांव, गरीब, जनता, मजदूर वर्गों को अपने बजट में कोई लाभ नहीं दिए हैं, सिर्फ छत्तीसगढ़ वासीयों को गुमराह करने वाला बजट है।  

श्री सोनी ने आगे बताया कि राजनांदगांव जिले सहित पूरे छत्तीसगढ़ में गांव से लेकर शहर तक पूरी विकास कार्य ठप पड़े हुए हैं। कांग्रेसियों 15 साल के विकास कार्य को अपना बता कर उद्घाटन व सिर्फ फीता काटने का ही काम कर रहे हैं, जैसे कि राजनांदगांव शहर में अमृत मिशन के तहत शहरों में पेयजल विस्तार के लिए गली मोहल्लों में नल पाइप बिछाए जा रहे हैं तथा कुछ वार्डों में पानी टंकी का भी निर्माण किए जा रहे हैं। मोहरा जल यंत्र में जितने भी विकास कार्य व नया निर्माण हुआ है, यह सब भाजपा का देन है, सिर्फ कांग्रेस के नेता जाकर वाहवाही लूटते हुए पके खीर को खाकर फीता काटने का काम कर रहे हैं, जो राजनांदगांव शहर वासियों को भी अच्छे से मालूम है, छत्तीसगढ़ सरकार अपने बजट में राजनंदगांव जिले सहित छत्तीसगढ़ में कोई बड़ा काम करने का कोई जिक्र नहीं किया है। गांव में भी विकास कार्य पूरी तरह ठप पड़े हुए हैं। लोग रोजी रोटी के लिए पालयन करने की स्थिति में आ गए हैं और लोग पालयन भी कर रहे हैं। कांग्रेस सरकार के नियंत्रण में अधिकारी और कर्मचारी नहीं होने के कारण आम जनता अपनी पीड़ा समस्या बताने को लेकर दर-दर भटक रहे हैं, जबकि कांग्रेस सरकार को मालूम होने के बाद भी अपने-अपने अधिकारी, कर्मचारियों को नियंत्रण करने में अक्षम साबित हो रहे हैं। राजनांदगांव शहर सहित जिले में विकास कार्य पूरी तरह शून्य है, जितना भी विकास कार्य हुआ है, वहां भाजपा सरकार के कार्यकाल का है, कांग्रेस सरकार अपनी ही योजनाओं का सही ढंग से छत्तीसगढ़वासियों व समाज के अंतिम व्यक्तियों तक सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाने में सरकार सक्षम नहीं है, इसलिए छत्तीसगढ़ का बजट गांव गरीब किसान सभी वर्गो के हित में नहीं है।