breaking news New

धान की भूसी युक्त राखड़ से मोहल्ले वालों का जीना हुआ दुश्वार ,कार्यवाही नहीं होने पर कड़ी आंदोलन की चेतावनी

धान की भूसी युक्त राखड़ से मोहल्ले वालों का जीना हुआ दुश्वार ,कार्यवाही नहीं होने पर कड़ी आंदोलन की चेतावनी

चांपा (आज की जनधारा ) ।   कॉलेज रोड चांपा छुईया तालाब के पास शांति जी डी प्लांट के द्वारा सैकड़ों टन धान की भूसी युक्त वेस्टेज राखड को अवैधानिक रूप से डंप किए जाने के कारणों से अब सैकड़ों मोहल्ले वासियों का जीना दुश्वार हो रहा है।   

बताया जाता है कि कई माह पहले उक्त कंपनी के द्वारा अपने प्लांट से निकले हुए धान की भूसी राखड को यहां पर लाकर फेंक दिए जाने के कारणों से अब यह राखड तनिक भी हवा चलने के उपरांत हवा के माध्यम से राखड का धुआं धूल गुब्बार बनकर मोहल्ले वालों का जीना दुश्वार कर रहा है !

इस संदर्भ में सैकड़ों मोहल्ले वालों ने मुखर होते हुए बताया कि थोड़ी सी भी हवा चलने के बाद राखड आसपास के निवासियों के घरों में जमकर धूल वर्षा हो रहा है जिसके चलते लोगों का जीना मुश्किल हो रहा है यही नहीं घरों में सूखे हुए कपड़े तथा खाने-पीने की वस्तुओं सहित गंभीर खुजली,सर्दी, जुकाम बुखार सहित सेहत पर गंभीर खतरा बनकर लोगों के लिए परेशानी का सबब बन चुका है !

जिसे लेकर मोहल्ले वालों ने उक्त राखड को हटाने अथवा उस पर मिट्टी डालकर समाधान करने के लिए जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 13 के उमा राजेंद्र राठौर को लिखित ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है जिस पर मोहल्ले वालों की गंभीर परेशानियों को देखते हुए तत्काल जिला पंचायत सदस्य द्वारा चांपा के तहसीलदार को संपर्क करते हुए क्षेत्रवासियों की समस्या के मद्देनजर त्वरित कार्यवाही की मांग की है इस पर जिला पंचायत सदस्य उमा राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि यदि क्षेत्रीय राजस्व अधिकारियों के द्वारा मोहल्ले वासियों की समस्या पर ध्यान नहीं दिया जाता है तो चांपा कोरबा रोड में चक्का जाम सहित गंभीर जन आंदोलन की चेतावनी दी है !

यहां स्पष्ट कर दें कि परिवहन विभाग के उच्च आदेश के तहत चार पहिया वाहन सहित अन्य यातायात के साधनों में राखड,डस्ट कोयला का खुले में परिवहन करने पर प्रतिबंध लगाया गया है इस पर पॉलिथीन सहित अन्य प्रकार से ढक्कन परिवहन करना अनिवार्य किया गया है लेकिन यहां पर खुले उक्त कंपनी के द्वारा राखड़ युक्त भूसी डाल दिए जाने के कारणों से हवा चलने पर यह  आसपास निवास करने वाले लोगों के घरों तक पहुंच कर यहां के बाशिंदों के लिए जान का दुश्मन साबित हो रहा है !

इस पर लोगों ने कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुए डंप किए गए राखड को हटाने अथवा ऊपर में मिट्टी डालकर उड़ रही राख पर समुचित कार्यवाही के लिए मांग की जा रही है इस शिकायत पर समुचित कार्यवाही नहीं होने के उपरांत कड़ी चेतावनी  भी दी जा रही है अब देखना होगा कि उच्च अधिकारियों के संज्ञान में लाने के उपरांत मोहल्ले वासियों के इस गंभीर समस्या पर क्या और कितनी कार्यवाही की जाती है