breaking news New

कोविड-19, टीकाकरण सर्वाधिक प्राथमिकता का कार्य - कलेक्टर

कोविड-19, टीकाकरण सर्वाधिक प्राथमिकता का कार्य - कलेक्टर


टीकाकरण से संबंधित अधिकारियों की ली बैठक,


  सक्ती जांजगीर-चांपा 22 जून. कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला ने कहा कि कोविड वैश्विक महामारी से बचाव का एक मात्र उपाय इसका टीकाकरण है। उन्होंने कहा कि कोविड-19,टीकाकरण सर्वाधिक प्राथमिकता का कार्य है । यह सुनिश्चित किया जाए कि जिले के सभी पात्र हितग्राहियों का लक्ष्य के अनुरूप समय पर टीकाकरण हो। 

जिला कार्यालय के सभाकक्ष में कोविड टीकाकरण से संबंधित अधिकारियों की बैठक में कहा कि कोई भी हितग्राही टीकाकरण केंद्र से वापस नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए कार्य योजना बनाकर स्थानीय स्तर पर प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करें। स्वास्थ्य विभाग की मितानिन, शिक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग का मैदानी अमला टीकाकरण के लिए पात्र लोगों को प्रेरित करने का कार्य करें।

कलेक्टर ने स्वास्थ विभाग के अधिकारियों से कहा कि प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लक्ष्य के अनुसार कोविड टीका उपलब्ध होना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक केंद्र में टीके की उपलब्धता और परिवहन नियमित हो यह सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा कि लक्ष्य से कम टीकाकरण होने पर संबंधित क्षेत्र के एसडीएम, जनपद सीईओ और बीएमओ जिम्मेदार माने जाएंगे। जिला स्तर पर टीकाकरण की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी एडीएम श्रीमती लीना कोसम और जिला पंचायत सीईओ श्री गजेंद्र सिंह ठाकुर की है। कलेक्टर ने कहा कि संबंधित अधिकारी टीकाकरण के कार्य को व्यक्तिगत जिम्मेदारी समझकर पूरा करें। 

 कलेक्टर ने कहा कि शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य लेकर कार्य करें। टीकाकरण ही कोविड महामारी से सुरक्षा का एक मात्र उपाय है। स्थानीय प्रतिष्ठित व्यक्तियो के माध्यम से लोगो को टीकाकरण के लिए प्रेरित करवायें। स्थानीय स्तर पर प्रचार कर टीका के संबंध में भ्रम को दूर करें।

 कलेक्टर ने सीएमएचओ और एसडीएम से कहा कि औद्योगिक संस्थानो में संलग्न श्रमिकों और उनके परिजनों के टीकाकरण के लिए कार्ययोजना बनालें। आवश्यकता अनुसार उनके लिए पृथक टीकाकरण केंद्र की भी व्यवस्था की जा सकती है। इसके लिए संबंधित औद्योगिक संस्थान के प्रमुख से समन्वय स्थापित कर कार्य करें। 

बैठक में सीएमएचओ डॉ एस आर बंजारे ने बताया कि जिले में कुल 186 टीकाकरण केंद्र संचालित है। इनमें से 40 टीकाकरण केन्द्रो में दोनो प्रकार के कोविशिल्ड और कोवैक्सिन का टीका लगाया जाएगा। शेष केन्द्रो में केवल कोविशिल्ड टीका लगेगा। उन्होंने हितग्राहियो के पंजीयन के संबंध में बताया कि सीजीटीका ऐप को बंद कर दिया गया है। अब केवल कोविंन ऐप के माध्यम से पंजीयन किया जा रहा है। टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीयन एवं टीकाकरण केंद्र में ऑफलाइन पंजीयन की व्यवस्था की गई है। सभी केन्द्रो में 18 वर्ष से अधिक और 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी हितग्राहियो का टीकाकरण होगा। 

टीकाकरण के समीक्षा बैठक के पूर्व अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम ने समय सीमा बैठक में लोक सेवा गारंटी अधिनियम, समय सीमा के लिए चिन्हांकित पत्रों पर की गई कार्यवाही एवं न्यायालयों से जारी आदेश के परिपालन की समीक्षा की। साथ ही दोनो जिला शिक्षा अधिकारियों और राजस्व विभाग के अधिकारियों से कहा कि विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र बनाने का कार्य समय पर पूरा करें। वनमण्डल अधिकारी श्रीमती प्रेमलता यादव ने वृक्षारोपण के कार्ययोजना के संबंध मे जानकारी दी। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्री सचिन भूतड़ा सभी एसडीएम, बीएमओं सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।