breaking news New

कोल्ड मिक्स तकनीक से बनी सड़क का इंजीनियर्स ने जायजा लिया

कोल्ड मिक्स तकनीक से बनी सड़क का इंजीनियर्स ने जायजा लिया

धमतरी।  छत्तीसगढ़ ग्रामीण विकास अभिकरण के तहत प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनांतर्गत धमतरी जिले के मगरलोड विकासखण्ड के ग्राम सिंगपुर से पालवाड़ी (नगरी मुख्यमार्ग) तक कोल्ड मिक्स तारकोल पद्धति से निर्मित 12.4 किलोमीटर लम्बी सड़क का अवलोकन करने आज प्रदेश भर के इंजीनियर्स पहुंचे।

यह प्रदेश की सबसे लम्बी सड़क है। इस अवसर पर सिहावा विधायक एवं मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष डॉ. लक्ष्मी ध्रुव ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में वन क्षेत्रों में भी तेजी से विकास हो रहा है। विभाग के अधिकारी इस बात विशेष तौर पर फोकस करें कि निर्माण गुणवत्तापूर्ण हो।

ग्राम पंचायत सिंगपुर में आयोजित आजादी का अमृत कार्यक्रम में विधायक ने कहा कि सड़कों की गुणवत्ता ऐसी हो कि आम आदमी के चेहरे पर संतुष्टि के भाव झलके। उन्होंने विभाग के अधिकारियों सड़क निर्माण कार्य शीघ्र हो।

कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने मौजूद अधिकारियों को कोल्ड मिक्स तकनीक से बनी सड़क को बेहतर विकल्प बताते हुए अपने-अपने जिलों में इसी तरह क्रियान्वयन करने की सीख दी।

कार्यपालन अभियंता आर.के. गर्ग ने बताया कि उनकी परियोजना क्रियान्वयन इकाई में मुख्यमंत्री ग्राम सड़क विकास योजना के अंतर्गत कुल 43 सड़कें जिनकी लम्बाई लगभग 150 किलोमीटर है, का प्रस्ताव शासन को प्रेषित किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि नगरी मुख्यमार्ग से सिंगपुर तक 8.40 करोड़ रूपए की लागत से 12.400 किलोमीटर लम्बी सड़क बनने से आठ गांव सिंगपुर, कमईपुर, भण्डारवाही, सोनझरी, धनोरा, राउतमुड़ा, पालवाड़ी और मुरूमडीह की लगभग छह हजार आबादी को इसका लाभ मिल रहा है।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ सड़क विकास अभिकरण के मुख्य अभियंता अरविंद पाढ़ी, राजेश देवांगन, अधीक्षण अभियंता संजय शर्मा, मुकेश संतोषी, के.आर. शास्त्री, अरूण जायसवाल, एस.के. सोनी सहित प्रदेश के सभी जिलों के कार्यपालन अभियंता उपस्थित थे।