breaking news New

महारानी अस्पताल को मिला ऑक्सीजन प्लांट की सौगात

महारानी अस्पताल को मिला ऑक्सीजन प्लांट की सौगात

महारानी अस्पताल को मिला 600 लीटर प्रति मिनट की क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट

जगदलपुर।  महारानी अस्पताल को आज 600 लीटर प्रति मिनट उत्पादन क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट की सौगात मिली। महापौर  सफीरा साहू की उपस्थिति में ऑक्सफैम इंडिया के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  अमिताभ बेहार द्वारा अपर कलेक्टर  अरविंद एक्का को सुपुर्द किया गया। महापौर सफीरा साहू ने फीता काटकर इसे जनता को समर्पित करते हुए महारानी अस्पताल को यह सौगात मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त की। 


उन्होंने कोरोना के चरम समय में ऑक्सीजन की मांग की खबरों को देखते हुए ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना में बस्तर को प्राथमिकता दिए जाने के लिए मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री  टीएस सिंहदेव के प्रति आभार व्यक्त किया।

ऑक्सफैम इंडिया के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  अमिताभ बेहार द्वारा अपनी संस्थान द्वारा किये  सामाजिक कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान स्वास्थ्य अमले के द्वारा अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर जूझने के लिए सराहना की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना का मुकाबला दूसरे स्थानों की अपेक्षा बहुत अधिक बेहतर ढंग से किया गया।

इस अवसर पर महारानी अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ संजय प्रसाद ने बताया कि ऑक्सफैम इंडिया की सहायता से कोविड 19 प्रतिक्रिया मिशन संजीवनी के तहत 600 लीटर प्रति मिनट की क्षमता का यह प्लांट स्थापित किया गया है, जिसका परिचालन 100 बिस्तर कादम्बिनी मातृ शिशु स्वास्थ्य संस्थान हेतु किया जायेगा। यह ऑक्सफैम इंडिया की सहायता से स्थापित किया गया चौथा ऑक्सीजन प्लांट है।

कोविड महामारी के दौरान ज्यादातर मरीजों को मेडिकल कॉलेज रिफर किया जा रहा था, जो कि कोविड की दुसरी लहर के दौरान एकमात्र कोविङ अस्पताल था, लेकिन ऑक्सीजन प्लांट स्थापित हो जाने से महारानी अस्पताल में ही प्लांट की सुविधाओं से लाभान्वित होंगे।


यह प्लांट पर्याप्त रूप से मातृत्व और चाईल्ड विंग की आवश्यक ऑक्सीजन आपूर्ति की जरूरत को पूरा करेगा साथ ही साथ नवजात शिशु देखभाल इकाई को भी मजबूत करेगा। 

इस अवसर पर नगर निगम अध्यक्ष  कविता साहू, पार्षद  ललिता राव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  कैलाश कोड़ोपी, महारानी अस्पताल प्रबंधक सौरभ कोचर सहित अस्पताल के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।