breaking news New

दुगली में स्थापित पूर्व PM स्व. राजीव गांधी की प्रतिमा को खंडित करने वाला आरोपी गिरफ्तार

दुगली में स्थापित पूर्व PM  स्व. राजीव गांधी की प्रतिमा को खंडित करने वाला आरोपी गिरफ्तार

धमतरी ।  ग्राम दुगली मे वर्ष 2019 में  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व0 राजीव गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया गया था। स्व0 राजीव गांधी की प्रतिमा को दिनांक 28-29/10/2021 के दरम्यानी रात्रि में किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा खंडित कर दिया गया था जिसके संबंध में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नगरी अध्यक्ष  भूषण लाल साहु व अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ताओ द्वारा थाना आकर अज्ञात आरोपी के विरुध्द कार्यवाही हेतु लिखित आवेदन देकर शीघ्र कार्यवाही करते हुए आरोपी की गिरफ्तारी की मांग किये थे । दिनांक 29/10/21 को अज्ञात आरोपी के विरुध्द थाना दुगली में अपराध धारा 427 भादवि, लोक सम्पत्ति का निवारण अधिश 1984 की धारा 03 के तहत् अपराध पंजीबध्द किया गया।

पुलिस अधीक्षक  प्रफुल्ल ठाकुर, अति. पुलिस अधीक्षक  निवेदिता पाल, एसडीओपी नगरी  मयंक रणसिंह के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में थाना प्रभारी दिनेश कुमार कुर्रे के साथ सायबर सेल धमतरी की टीम भी दुगली आकर प्रकरण मे पतासाजी में जुट गई। थाना दुगली की पुलिस कई टीम में अलग अलग पहलुओ पर बारीकी से पतासाजी करते हुए अपराध दर्ज के महज 24 घण्टे के भीतर घटना को अंजाम देने वाले आरोपी शिक्कुमार नेताम पिता तुलुराम उर्फ धन्नूराम नेताम उम्र 37 वर्ष सा0 दुगली बिरनपारा को गिरफ्तार करने में सफल हुए।

विवेचना के दौरान थाना प्रभारी दुगली को जानकारी मिली कि बिरनपारा के शिवकुमार नेताम ने पूर्व मे दो-तीन जगह देवी देवताओं की मूर्ति को तोडफ़ोड कर फेंक दिया था। जिसकी तस्दीक करने पर जानकारी मिला कि बहारराय मंदिर के दुर्गा मां की मूर्ति, बंजरंगबली की मूर्ति एवं शीतला मां की मूर्ति को पिछले वर्ष नवरात्रि के पहले शिवकुमार ने तोडफ़ोड़ किया था

जिसे ग्राम एवं समाज के कहने पर उसके परिवार वालो ने नया मूर्ति बनवाकर स्थापित कराया था। इसी प्रकार सिंगपुर क्षेत्र के राउतमुड़ा गांव के देव मंदिर के घोड़ा को तोड़कर दुगली के बिरनपारा ले आया था जिसे गांव वालो ने वापस स्थापित कराया था। संदेह होने पर थाना में लाकर बारीकी से लगातार पूछताछ पर आरोपी ने उक्त सभी घटना को करना स्वीकार किया और पिछले रात स्व. राजीव गांधी की मूर्ति को भी कुदाल से तोड़कर खंडित कर देना बताया।

आरोपी ने ऐसा काम उसे देवी के कहने पर देवी आने पर करना बताया। आरोपी के अपराध कबूल करने पर मेमोरण्डम कथन लेकर प्रतिमा तोडऩे में प्रयुक्त कुदाल का जप्त किया गया। आरोपी को दिनांक 30/10/21 को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमाण्ड पर  न्यायालय पेश किया गया है। आरोपी को पकडऩे मे सायबर सेल व थाना दुगली स्टाफ का सराहनीय योगदान रहा।