breaking news New

मासूम बालिका से अश्लील हरकतें करने पर बस चालक को सात वर्ष कठोर कारावास की सजा

मासूम बालिका से अश्लील हरकतें करने पर बस चालक को सात वर्ष कठोर कारावास की सजा

श्रीगंगानगर।  राजस्थान के श्रीगंगानगर में एक निजी स्कूल के बस चालक को चार वर्षीय बालिका से अश्लील हरकतें करने का आरोप प्रमाणित पाए जाने पर न्यायालय ने आज सात वर्ष की कठोर कारावास की सजा सुनाई और 10 हजार का अर्थदंड लगाया।

लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम (पोक्सो एक्ट) मामलों की विशेष अदालत (संख्या-एक) के न्यायाधीश अमित कड़वासरा ने 10 मई 2019 को स्थानीय महिला थाना में दर्ज हुए प्रकरण का आज निस्तारण करते हुए आरोपी बस चालक विनोद बिश्नोई (38)निवासी चानना धाम,तहसील पदमपुर को यह सजा सुनाई।

विशिष्ट लोक अभियोजक गुरचरणसिंह एडवोकेट ने बताया कि स्थानीय पदमपुर मार्ग निवासी परिवादी की रिपोर्ट पर महिला थाना में विनोद के खिलाफ बालिका से अश्लील हरकतें करने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ था। परिवादी की चार वर्षीय पुत्री हनुमानगढ़ मार्ग पर जिंदल रिसोर्ट के पीछे वाली मेन रोड पर स्थित गुड शेफर्ड पब्लिक स्कूल में पढ़ती थी। वह बस से स्कूल जाती और वापस आती थी।

परिवादी का आरोप था कि बस में उसकी पुत्री से चालक विनोद गलत हरकतें करता है। खुद बालिका ने तीन चार बार घर वालों को इस बारे में बताया। इस पर पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 और पोक्सो एक्ट की धारा 9(च)(ड)10 के तहत प्रकरण दर्ज किया।

न्यायालय ने अपने आदेश में अर्थदंड अदा नहीं करने पर एक वर्ष की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। पीड़िता को प्रतिकर योजना के तहत प्रति कर राशि दिए जाने की अनुशंसा की की गई है।