breaking news New

12 निगरानी बदमाशों को इनाम स्वरूप माफी बदमाश की श्रेणी में लाया गया, हिस्ट्रीसीटरों पर कड़ी निगाह रखने की दी गई हिदायत

12 निगरानी बदमाशों को इनाम स्वरूप माफी बदमाश की श्रेणी में लाया गया, हिस्ट्रीसीटरों पर कड़ी निगाह रखने की दी गई हिदायत

 हेमन्त मिश्रा

 बलौदाबाजार।  पीताम्बर पटेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बलौदाबाजार द्वारा जिले के निगरानी बदमाश, माफी बदमाश, गुण्डा बदमाश एवं हिस्ट्रीसीटरों की परेड ली गई। परेड के दौरान उनके गुजर-बसर के सबंध में पूछताछ कर वर्तमान में उनके चाल चलन का विस्तृत जानकारी लिया गया। जिले में काफी वर्षों से इनका नाम गुंडा एवं निगरानी बदमाशों के रिकॉर्ड में दर्ज था।  


उनके रिकॉर्ड की लगातार समुचित जांच एवं तस्दीक करने के पश्चात इनकी फाइल नस्तीबध्द किया गया है। इसी प्रकार जिले के निगरानी बदमाशों को सही रास्ते मे चलने और मुख्यधारा में लौटने के लिए पुलिस द्वारा सतत निगाह रखते हुए लगातार समझाइश दिया जा रहा था, जिसके कारण जिले के निगरानी बदमाशों के चाल चलन एवं मुख्यधारा में लौटने से इनाम स्वरूप इनका नाम माफी बदमाश की श्रेणी में लाया गया है। 

जिसके तारतम्य में 35 गुंडा बदमाशों का रिकॉर्ड अच्छे चाल चलन के कारण नस्तीबध्द कर दिया गया है। इसी क्रम मे 12 निगरानी बदमाशों का नाम अच्छे चाल चलन एवं मुख्यधारा में लौटने के कारण माफी बदमाश की श्रेणी में लाया गया है।

03 बदमाशों की मृत्यु होने से उनका नाम निगरानी/गुण्डा बदमाशों की सूची से पृथक कर दिया गया है। इन सभी से कहा गया कि वे खुद अपराध ना करें, वे दूसरों को अपराध करने से रोकें तथा अगर कोई अपराध करता है तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस को दें। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा उन्हें समय रहते अपने आचरण में सुधार कर अच्छी तरह जीवन यापन करने की समझाईश देकर सभी बदमाशों को अपने-अपने घर के लिए रवाना किया गया।