breaking news New

बसपा विधायक केशव चन्द्रा ने दुर्गा पंडाल में जाकर पूजा अर्जना कर आशीर्वाद लिए

बसपा विधायक केशव चन्द्रा ने दुर्गा पंडाल में जाकर पूजा अर्जना कर आशीर्वाद लिए

जांजगीर/ जैजैपुर . विधानसभा के ऊर्जावान विधायक  केशव प्रसाद चन्द्रा  ने नवरात्रि के द्वितीय दिवस के दौरान अपने विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बाजार मोहल्ला नन्देली,बाजार पारा इब्न कर्मा चौक कोटेतरा, छितापड़रिया, तलवा, दर्राभाठा, ठठारी में आयोजित दुर्गा उत्सव कार्यक्रम में पहुँचकर माँ दुर्गे के शैल चित्र पर  पूजा अर्चना कर प्रदेशवासी एवम  क्षेत्रवासियों के लिये सुख समृद्धि शांति एवम उन्नति खुशवाली की कामना करने हेतु आशीर्वाद लिये। और अपने उद्बोधन में कहा कि

आज शारदीय नवरात्र का दूसरा दिन है और इस दिन मां दुर्गा के दूसरे स्वरूप ब्रह्माचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है। मां ब्रह्माचारिणी के नाम में ही उनकी शक्तियों की महिमा का वर्णन मिलता है। ब्रह्म का अर्थ होता है तपस्या और चारिणी का अर्थ होता है आचरण करने वाली। अर्थात तप का आचरण करने वाली शक्ति को हम बार-बार नमन करते हैं। माता के इस स्वरूप की पूजा करने से तप, त्याग, संयम, सदाचार आदि की वृद्धि होती है। जीवन के कठिन से कठिन समय में भी इंसान अपने पथ से विचलित नहीं होता है। 

नवरात्रि के दूसरे दिन पूजित ब्रह्मचारिणी आंतरिक जागरण का प्रतिनिधित्व करती हैं। मां सृष्टि में ऊर्जा के प्रवाह, कार्यकुशलता और आंतरिक शक्ति में विस्तार की जननी हैं। ब्रह्मचारिणी इस लोक के समस्त चर और अचर जगत की विद्याओं की ज्ञाता हैं। इनका स्वरूप श्वेत वस्त्र में लिपटी हुई कन्या के रूप में है, जिनके एक हाथ में अष्टदल की माला और दूसरे में कमंडल है। यह अक्षयमाला और कमंडल धारिणी ब्रह्मचारिणी नामक दुर्गा शास्त्रों के ज्ञान और निगमागम तंत्र-मंत्र आदि से संयुक्त हैं। भक्तों को यह अपनी सर्वज्ञ संपन्न विद्या देकर विजयी बनाती हैं। ब्रह्मचारिणी का स्वरूप बहुत ही सादा और भव्य है। अन्य देवियों की तुलना में वह अतिसौम्य, क्रोध रहित और तुरंत वरदान देने वाली देवी हैं। उक्ताशय की जानकारी विधायक मीडिया प्रभारी रमेश साहू ने दी।