breaking news New

भारतीय राफेल से चीन और पाकिस्तान को भारी सदमा

भारतीय राफेल से चीन और पाकिस्तान को भारी सदमा

नईदिल्ली।  भारतीय वायुसेना में राफेल के शामिल होने से ताकत कई गुना वृद्धि  हुआ है वहीं पड़ोसियों को इससे भारी सदमा पहुंचा है।  चीन और पाकिस्तान लगातार इस विषय में अपना बयान जारी कर रहे है ,  पहले चीन ने राफेल विमान को अपने जे 20 से कमतर बताया तो अब पाकिस्तान ने इसे परमाणु हथियारों की रेस करार दे दिया.

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आइशा फारूकी ने भारत को राफेल फाइटर जेट मिलने पर प्रतिक्रिया दी. भारत के पूर्व अधिकारियों और कई अंतरराष्ट्रीय मैगजीन के अनुसार राफेल विमान दोहरी क्षमता वाला है और इसका इस्तेमाल परमाणु हथियारों के लिए भी किया जा सकता है.

फारूकी ने कहा कि भारत लगातार अपने परमाणु हथियारों के जखीरे को बढ़ा रहा है और उसे आधुनिक बना रहा है. पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा, भारत हिंद महासागर को परमाणु हथियारबंद बना रहा है और मिसाइल सिस्टम के जरिए लगातार हथियारों की तैनाती बढ़ा रहा है.

उन्होंने कहा कि भारत अपनी जरूरी सुरक्षा आवश्यकता के अलावा एशिया में अपनी सैन्य क्षमताओं को लगातार बढ़ाने में जुटा हुआ है. फारुकी ने कहा पश्चिम अपनी संकीर्ण कारोबारी हितों के लिए भारत को इन हथियारों की पूर्ति और तकनीक देने में मदद कर रहा है.