breaking news New

पूर्व नक्सली अब समाज की मुख्यधारा में शामिल होकर आरक्षक बने

पूर्व नक्सली अब समाज की मुख्यधारा में शामिल होकर आरक्षक बने

जगदलपुर, 21 नवंबर। नक्सली प्रभावित बस्तर जिले में 121 पुलिस आरक्षक ऐसे हैं, जो पूर्व में नक्सली थे या फिर नक्सलियों के लिए सहयाेग करते थे।

बुनियादी प्रशिक्षण के बाद कल यहां 227 आरक्षकों का दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया, जिसमें 121 ऐसे आरक्षक शामिल हैं, जो पहले नक्सली गतिविधियों में शामिल थे। सभी 227 आरक्षक बस्तर अंचल के अंदरूनी गांवों के निवासी हैं। ये सभी 11 माह के कड़े प्रशिक्षण के बाद आरक्षक के रूप में अपनी सेवाएं देने के लिए तैयार हैं।

बस्तर जिला पुलिस के अनुसार 121 आरक्षक ऐसे हैं, जो पहले नक्सली रह चुके हैं या नक्सलियों के लिए काम करते थे। इन्होंने काफी समय पहले समर्पण किया था और मुख्यधारा में जुड़ने की इच्छा के बाद उन्हें आरक्षक बनाने की प्रक्रिया शुरू की गयी। प्रशिक्षण के बाद अब ये नए आरक्षक नक्सलियों से ही लोहा लेने के लिए तैयार हैं।