breaking news New

धान बेचने में हो रही दिक्कत को लेकर बीजेपी किसानों के समर्थन में करेगी धरना प्रदर्शन

 धान बेचने में हो रही दिक्कत को लेकर बीजेपी किसानों के समर्थन में करेगी धरना प्रदर्शन

चंद्र प्रकाश साहू

सुरजपुर। जिले के धान समस्त धान खरीदी केंद्रों में जिले भर के किसान अपने खून पसीने के कमाई धान की बिक्री समितियों में नही कर पा रहे है। जिसका मुख्य कारण बारदाना नही होना है। वहीं समिति प्रबंधकों द्वारा चार सौ से पांच सौ किवंटल धान खरीदी करने के कारण किसान दूर दराज से आकर समितियों से टोकन के लिए बैरंग वापस लौट रहे है। जिसको लेकर बीजेपी नेताओं ने क्लेक्टर को ज्ञापन शौप कर बारदाना की कमी दूर करने व धान खरिदने की लिमिट बढ़ाने की मांग की है। तथा 4 जनवरी को कई जगहों में दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक धरना प्रदर्शन करके चक्का जाम करने की बात कही है। 

गौरतलब है कि जिले में सैतालिस धान खरीदी केंद्र का संचालन हो रहा है। जिसमे हजारों की संख्या में किसान प्रतिदिन कई किलोमीटर की दूरी तय करके धान खरीदी समिति में जा रहे है। जहां किसानों को घन्टो लाइन लगने के बाद  बैरंग ही वापस लौटना पड़ रहा है। किसानों ने बताया कि समिति प्रबंधक यर कह कर वापस कर देते है कि टोकन नही कटेगा बारदाना नही है। कल आना इसी तरह आस लगाएं दूसरे दिन पुनः आ रहे है और उम्मीद लिए घर वापस जा रहें है। राम साय किसान बताते है कि वे धान की फसल के लिए साहू कार से ऋंण लिए थे। धान बिकने के बाद सरकार से मिलने वाले समर्थन मूल्य की राशि से ऋंण का पैसा वापस लौटाना है। ऐसे में धान नही बिकने के कारण राइस मिलों में मामूली कीमतो पर धान बेचने को मजबूर है। वहीँ कई किसानों के रकबा घट गया था उसे पुनः सुधारने की मांग की गई थी। जो सुधार तो हो गया है किंतु ऑनलाइन सो नही करने से किसान धान नही बेच पा रहे है। 

धान खरीदी केन्द्रों में खरीदे धान का उठाव नहीं हो पा रहा है। जिसके कारण समितियों में धान जाम हो गया है धान खरीदी का स्थान भी भर गया है तथा बारनादों की भारी कमी है । समिति प्रबंधकों द्वारा यह जानकारी दी जा रही है कि प्रतिदिन 400-500 क्विंटल ही धान प्रत्येक समितियों में धान क्रय करना है ऐसी स्थितियों में किसान अपना पूरा धान विक्रय नहीं कर पायेगा। धान खरीदी करने के लिए बारदानों की सम्पूर्ण व्यवस्था एवं टोकन पर्याप्त मात्रा में कटवाने की अनुमति देने की 

की मांग की है। साथ ही किसानों के घटे रकबा सुधार होने के पश्चात भी ऑनलाइन सॉफ्टवेयर में नही दिखने से किसान चिंतित है। किसानों की समस्याओं को लेकर बीजेपी राजनीतिक करने में पीछे नही है। सरकार व प्रशासन को कटघरे में खड़े करके आरोप प्रत्यारोप लगा रही है। भारतीय जनता पार्टी के सभी 14 मण्डल प्रेमनगर, रामानुजनगर, देवनगर,बिहारपुर, ओड़गी, भैयाथान, भटगाँव, जरही, प्रतापपुर, लटोरी, शिवनन्दनपुर, विश्रामपुर, सूरजपुर ग्रामीण एवं सूरजपुर शहर में एक 4 जनवरी  को दोपहर 12:00 से शाम 5:00 बजे तक एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं चक्का जाम करने की बात कही है।