breaking news New

नाबालिक के साथ दुष्कर्म की कोशिश ,आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

नाबालिक के साथ दुष्कर्म की कोशिश ,आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

कोरिया, 23 फरवरी। लगातार प्रदेश में महिला अपराध पर लगाम लगाने के लिए हर कवायद सरकार की तरफ से की जा रही है ,लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद दरिंदे बेटियों को निशाना बनाने से बाज नहीं आ रहे हैं, ऐसा ही मामला कोरिया जिले में एक गांव में नाबालिक बच्ची के साथ छेड़छाड़ और दुष्कर्म के प्रयास का मामला सामने आया है पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार 22 फरवरी दिन सोमवार को पीड़ाता  की मां ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि उनकी नाबालिग लड़की जिनकी उम्र 15 से 16 वर्ष करीब है जो गांव में ही  रामप्रसाद गोड़ के कुएं में पानी भरने गई थी, अचानक शोर-शराबा होने लगा, शोर सरावा की आवाज सुनते ही मैंने कुए की ओर दौड़ कर गई ,तभी देखा कि गांव के ही रहने वाला लड़का जिनका नाम धर्मेंद्र बैगा है वह भागते हुए मेरे घर की तरफ से निकलता हुआ गाली गलौज करता हुआ चला गया, मैंने अपनी लड़की के पास पहुंची तो लड़की ने आप बीती बताई।



लड़की ने बताया कि कुएं में पानी भरकर लौट रही थी तभी कुए के पास गांव का ही लड़का धर्मेंद्र गलत नियत से मेरे पास पहुंचा, और मेरे सर पर रखा हंडी को गिरा दिया, मेरा मुंह दबाकर मेरे साथ छेड़छाड़ करने लगा, दुष्कर्म करने की इच्छा से मुझे मेरा बाल पकड़कर  बाड़ी की ओर खींचते हुए ले जाने की कोशिश करने लगा, मेरे विरोध करने पर मुझे गंदी गंदी गाली दे रहा था, जाते जाते मुझे धमकी देते हुए गया, कि किसी से इसके के बारे में बताएं तो जान से मार दूंगा। बाद में प्रार्थिया ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई, प्रार्थीया की रिपोर्ट पर जनकपुर पुलिस ने आरोपी धर्मेंद्र बैगा  पिता शिवराम बैगा जिनकी उम्र 25 साल निवासी पतवाही को धारा 354.294,506,323, पास्को एक्ट की धारा 8 के अंतर्गत गिरफ़्तार किया गया।
इस संपूर्ण कार्रवाई में थाना प्रभारी विवेक खलखो, चित्र बहोर यादव, बालकृष्ण राजवाड़े, ओम प्रकाश राजवाड़े, आरक्षक अरविंद मिश्री, दीप नारायण तिवारी, रघुनन्दन सिंह की सराहनीय भूमिका थी?