breaking news New

मौसम की मार से किसानों को भारी परेशानी : 1 नवंबर से धान खरीदी करें राज्य सरकार, अन्नदाता न हों परेशान

मौसम की मार से किसानों को भारी परेशानी : 1 नवंबर से धान खरीदी करें राज्य सरकार, अन्नदाता न हों परेशान

सुकमा-भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष अधिवक्ता दीपिका शोरी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी राज्य सरकार से 1 नवंबर से धान खरीदी करने की मांग की है। दीपिका ने कहा कि मैं लगातार  सुकमा जिले के विभिन्न गांवों का दौरा कर रही हूं जहाँ किसानों ने अपनी समस्या बताते हुए कहा है कि मौसम के मार के कारण सही उपज भी नहीं हुई है अगर सरकार लेटलतीफी करती है तो किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है !

इसलिए मैं  कांग्रेस सरकार से मांग करती हूँ  कि किसानों के धान की खरीदी 1 नवंबर से शुरू करे ताकि उनको धान रखने में कोई समस्या न हो क्योकि अब किसानों का धान कटाई चालू हो चुका है, यदि  1 नवंबर से धान खरीदी नहीं होती है तो किसानों को भंडारण में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। साथ ही साथ उन्होंने सरकार से अपील की कि गत वर्षों की बोनस एवं धान की  शेष बची हुई राशि भी  तत्काल जारी कर अपने किए गए वादों को पूर्ण करे।

धान खरीदी केंद्रों में उचित व्यवस्था हो

दीपिका ने यह भी कहा कि धान खरीदी केंद्रों में धान के रखरखाव के लिए उचित व्यवस्था हो,किसानों को लाइन न लगाना पड़े इस बात की चिंता राज्य सरकार को करनी चाहिए किसानों के लिए पेयजल की उत्तम व्यवस्था होनी चाहिए ,समय से पहले राज्य सरकार के द्वारा बारदाना की व्यवस्था की जाए पिछली बार की तरह बारदाना की कमी ना हो, 

धान खरीदी हेतु डिजिटल कांटे का उपयोग हो 

दीपिका ने यह भी कहा कि पिछले वर्ष धान खरीदी  केंद्रों में किसानों को ठगने की खबरें भी आ रही थी प्रति बोरा 4 से 5 किलो धान कटौती की जा रही थी सामान्य कांटे से झुकती में धान लिया जा रहा था सरकार को हर खरीदी केंद्रों में डिजिटल कांटे का उपयोग करना चाहिए जिससे किसानों को सही तौल पर सही राशि प्राप्त हो